लखीमपुर की घटना पर कांग्रेस ने निकाला कैंडल मार्च:दलित बहनों के हत्यारों को फांसी देने की मांग, सरकार विपक्ष की आवाज दबा रही है

उन्नाव3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में दो सगी बहनों के साथ रेप के बाद हत्या के मामले में सियासी माहौल गर्म है। बुधवार को वारदात के सामने आने के बाद से ही तमाम राजनैतिक दलों ने मौजूदा सरकार पर निशाना साधना शुरू कर दिया था। कांग्रेस पार्टी की जिलाध्यक्ष ने आज देर शाम को लखीमपुर कांड को लेकर उन्नाव शहर में कैंडल मार्च निकाला और घटना में शामिल हत्यारों को फांसी की सजा की मांग की है।

उन्नाव में कांग्रेस की जिलाध्यक्ष आरती वाजपेयी के नेतृत्व में उन्नाव शहर के सिविल लाइन स्थित अंबेडकर पार्क के पास लखीमपुर खीरी में हुई घटना को लेकर दो सगी बहनों की रेप के बाद हत्या की घटना बेहद दुखद है। उन्होंने कैंडल मार्च निकालकर घटना में शामिल सभी हत्यारों को फांसी की सजा की मांग की है।

लखीमपुर की घटना पर कांग्रेस ने कैंडल मार्च निकाला।
लखीमपुर की घटना पर कांग्रेस ने कैंडल मार्च निकाला।

लखीमपुर की घटना योगी सरकार के दामन में दाग
आरती वाजपेयी ने कहा कि नारी के सम्मान में बीजेपी मैदान में कहने वाली पार्टी की सरकार में आज महिलाएं और बच्चियां ही सुरक्षित नहीं हैं। लखीमपुर में दो सगी बहनों का अपहरण कर उनका रेप और हत्या करने की घटना योगी सरकार के दामन में दाग है। उन्होंने कहा कि योगी सरकार भले ही लाख दुहाई दे कि राज्य में कानून का राज है, लेकिन सच्चाई यह है कि अपराधी मौज कर रहे हैं। वहीं सरकार विपक्ष की आवाज को दबाने की कोशिश कर रही है।

फार्स्ट ट्रैक कोर्ट में चलाया जाए मुकदमा
हम लखीमपुर की बेटियों को न्याय दिलाने के लिए कैंडल मार्च निकाला है। हम चाहते हैं कि यह मुकदमा एफएसटी कोर्ट में चलाया जाए। जिससे हत्यारों को जल्द से जल्द और कड़ी से कड़ी सजा मिले।

खबरें और भी हैं...