उन्नाव में मरुधर एक्सप्रेस डिरेल, इंजन समेत 3 बोगी पलटी:आधे घंटे में पहुंचे रेलवे के अफसर, सेफ्टी विभाग की मॉकड्रिल में जांचा गया रिस्पांस टाइम

उन्नावएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डीरेल होने की सूचना के बाद रेलवे के सभी विभाग के अधिकारी, कर्मचारी, कानपुर रेस्क्यू टीम रवाना होकर आधे घंटे में मगरवारा रेलवे स्टेशन पहुंच गए। - Dainik Bhaskar
डीरेल होने की सूचना के बाद रेलवे के सभी विभाग के अधिकारी, कर्मचारी, कानपुर रेस्क्यू टीम रवाना होकर आधे घंटे में मगरवारा रेलवे स्टेशन पहुंच गए।

लखनऊ से कानपुर जा रही मरुधर एक्सप्रेस ट्रेन मगरवारा रेलवे स्टेशन पर पहुंची। तभी पहले से स्टेशन पर मौजूद सेफ्टी विभाग के अधिकारियों ने स्टेशन मास्टर से कंट्रोल रूम को मैसेज कराया कि मगरवारा स्टेशन पर ट्रेन डिरेल हो गई है। सूचना कंट्रोल रूम को मिलते ही रेलवे अधिकारियों के हड़कंप मच गया और RPF, GRP के साथ अन्य सुरक्षा विभाग को तत्काल कंट्रोलरूम ने अवगत करा दिया। जिस पर हड़कंप मचा रहा और सभी विभाग के अधिकारी, कर्मचारी, कानपुर रेस्क्यू टीम रवाना होकर आधे घंटे में मगरवारा रेलवे स्टेशन पहुंच गए। जहां ट्रेन पटरी पर थी और यात्री डब्बे में सवार थे पहले से मौजूद सेफ्टी विभाग की टीम ने बताया कि यह एक मॉकड्रिल है। रिस्पांस टाइम चेक किया जा रहा है। सतर्कता देखी जा रही है।

बता दे कि लखनऊ से चली मरुधर एक्सप्रेस ट्रेन मगरवारा रेलवे स्टेशन रात 12:30 बजे जैसे ही स्टेशन पर रूकती है। रिस्पांस टाइम चेक करने के बाद 02:40 बजे मगरवारा रेलवे स्टेशन से ट्रेन को कानपुर के लिए रवाना किया गया। इस दौरान मौजूद रेलवे कर्मचारियों को सेफ्टी विभाग के अधिकारियों ने आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए।

पहले से मौजूद सेफ्टी विभाग की टीम ने बताया कि यह एक माकड्रिल है। रिस्पांस टाइम चेक किया जा रहा है। सतर्कता देखी जा रही है।
पहले से मौजूद सेफ्टी विभाग की टीम ने बताया कि यह एक माकड्रिल है। रिस्पांस टाइम चेक किया जा रहा है। सतर्कता देखी जा रही है।

कानपुर रेलवे स्टेशन पर मचा रहा हडकंप

मरुधर एक्सप्रेस उन्नाव में खड़ी रही। जिसके चलते कानपुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन का इंतजार कर रहे यात्रियों में हड़कंप मचा रहा। पीछे से आने वाली अन्य ट्रेनें भी 2 घंटे के लिए प्रभावित हुई। जिससे यात्री परेशान बने रहें। वहीं स्टेशन पर मौजूद कानपुर के लोग उन्नाव के संपर्क में आने वाले लोगों से ट्रेन का अपडेट लेते रहें।

स्टेशन मास्टर का फोन किया कब्जे में, सूचना बन्द

मगरवारा रेलवे स्टेशन पर रात में ड्यूटी पर तैनात स्टेशन मास्टर का फॉर्म सेफ्टी विभाग के अधिकारियों ने अपने कब्जे में ले लिया। स्टेशन में रखे सरकारी फोन भी नहीं उठाने दिया। इस दौरान आसपास क्रासिंग के गेटमैन भी लगातार फोन से संपर्क करते रहे लेकिन कोई रिस्पांस नहीं मिला। जिससे वह भी परेशान बने रहें।

गैंगमैन रेल पथ निरीक्षक को हिलने नहीं दिया

ट्रेन डिरेल होने की सूचना पर सबसे पहले रेल पथ निरीक्षक और गैंगमैन की फौज पहुंची। जहां सेफ्टी विभाग के अधिकारियों ने उन्हें घेर लिया। 2 घंटे तक ना तो किसी से फोन पर बात करने दी ना ही किसी को कोई जानकारी देने का मौका दिया।

उन्नाव स्टेशन पर शुरू हो गई चेकिंग

उधर मगरवारा में ट्रेन डिटेल होने की सूचना के साथ ही किसी ने बता दिया पीछे से आ रही एक ट्रेन में बम रखा हुआ है। जिसके बाद उन्नाव रेलवे स्टेशन पर डॉग स्क्वायड, बम निरोधक दस्ता टीमें भी ट्रेनों को रोक कर चेक करने लगे 2 घंटे तक लगातार चेकिंग चलती रही।

उन्नाव रेलवे स्टेशन पर डॉग स्क्वायड, बम निरोधक दस्ता टीमें भी ट्रेनों को रोक कर चेक करने लगे 2 घंटे तक लगातार चेकिंग चलती रही।
उन्नाव रेलवे स्टेशन पर डॉग स्क्वायड, बम निरोधक दस्ता टीमें भी ट्रेनों को रोक कर चेक करने लगे 2 घंटे तक लगातार चेकिंग चलती रही।
खबरें और भी हैं...