उन्नाव में चार दिन बन्द रहेंगी टेनारिया:बसंत पंचमी पर कल शाही स्नान, सीईटीपी को भी रखा जाएगा बंद

उन्नाव3 दिन पहले

माघ मेला के दौरान प्रदूषित पानी गंगा तक न पहुंचे इसके लिए जिले में संचालित टेनरियों को चार दिन बंद रखा जाएगा। प्रदूषण विभाग ने औद्योगिक क्षेत्र में पानी का उत्प्रवाह करने वाली टेनरियों में चार दिन तक शून्य उत्प्रवाह करने का आदेश जारी किया है। टेनरियों के साथ ही दही चौकी और बंथर स्थित सीईटीपी को भी बंद रखा जाएगा।

प्रयागराज में आयोजित माघ मेला में श्रद्धालु गंगा में पवित्र डुबकी लगा सके इसके लिए प्रदूषित पानी का उत्प्रवाह करने वाली टेनरियों को बंद करने का आदेश जारी किया गया था। प्रत्येक शाही स्नान से चार दिन पहले टेनरियों की बंदी का रोस्टर भी जारी किया गया था। पहले और दूसरे चरण में जिले में आठ दिन तक टेनरियों को बंद रखा गया था। तीसरे चरण में भी टेनारिया बन्द रखी गई। अब चौथे स्नान बसंत पंचमी पर प्रयागराज में अब 26 जनवरी को बसंत पर शाही स्नान होना है। जिसके तहत जिले में उत्पादन बंद करने का आदेश जारी कर दिया गया है। टेनरियों में 27 जनवरी तक टेनरियों में उत्पादन और प्रदूषित पानी का उत्प्रवाह नहीं हो सकेगा। प्रदूषण विभाग के अधिकारियों के अनुसार टेनरियों में गीला कार्य का काम नहीं किया जाएगा। साथ ही सीईटीपी में भी प्रदूषित पानी को रिफाइन करने की प्रक्रिया बंद करा दी गई। इससे ड्रेन के जरिए प्रदूषित पानी गंगा में नहीं पहुंच सकेगा।

मनमानी करने वालों पर होगी कारवाई

पहले तीन चरणों में औद्योगिक इकाइयों ने जमकर मनमानी की। निर्देश के बाद भी टेनरी में उत्पादन हुआ और प्रदूषित पानी का उत्प्रवाह किया गया। हालांकि इस बार प्रदूषण विभाग ने शून्य उत्प्रवाह का सख्त आदेश दिया है। डीएम अपूर्वा दुबे ने भी अनुश्रवण समिति को निर्देश दिया है की समिति के सदस्य लगातार निरीक्षण करते रहें।

गंगाघाट में इन तारीखों को होगा शाही स्नान

बसंत पंचमी 26 जनवरी

माघी पूर्णिमा 5 फरवरी

महाशिवरात्रि 8 फरवरी

खबरें और भी हैं...