उन्नाव में दो युवकों की मौत:ट्यूबवेल के गड्ढे में फंसने से तीन लोगों की हालत बिगड़ी, गांव वालों ने रस्सी से निकाला बाहर

उन्नाव4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
उन्नाव में ट्यूबवेल के गड्ढे में फंसकर दो लोगों की मौत के बाद परिजनों में मचा कोहराम। - Dainik Bhaskar
उन्नाव में ट्यूबवेल के गड्ढे में फंसकर दो लोगों की मौत के बाद परिजनों में मचा कोहराम।

उन्नाव में ट्यूबवेल के गड्ढे की सफाई के दौरान दो लोग गड्ढे में गिरकर फंस गए। उन्हें बचाने के लिए तीसरा कूदा तो वह भी फंस गया। बाद में गांव वालों ने रस्सी के सहारे तीनों को बाहर निकाला। तब तक दो लोगों की मौत हो चुकी थी। जबकि तीसरे की हालत बेहद गंभीर थी। जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

सफाई के दैरान पहले गिरा मजदूर
पूरा मामला असोहा थाना क्षेत्र के सामाधा गांव के बाहर लखनऊ के मोहनलालगंज थाना क्षेत्र के बिन्दौवा गांव का है। जहां के निवासी रामसेवक का कृषि फार्म है और वहीं ट्यूबवेल भी है। शनिवार को दोपहर में करीब 2 बजे रामसेवक समाधा निवासी प्रहलाद(18) के साथ ट्यूबवेल की सफाई करने लगे। सफाई के दौरान कीचड़ होने से प्रहलाद ट्यूबवेल के गड्ढे मे फंस गया। यह देख उसे निकलने के लिए रामसेवक भी गड्ढे मे उतर गया। इसके बाद दोनों गड्ढे में फंस गए।

प्रहलाद का भाई दोनों को बचाने कूदा
दोनों को फंसता देख रामसेवक की पत्नी रामावती ने शोर मचाना शुरू किया। शोर सुनकर पास में ही प्रहलाद का भाई मुकेश जो की बकरी चरा रहा था। भाग कर मौके पर पहुंचा। भाई को फंसा देख कर मुकेश भी ट्यूबवेल मे कूद पड़ा। शोर सुनकर अन्य ग्रामीण भी पहुंचे। जिन्होंने आनन-फानन में रस्सी के सहारे तीनों को बाहर निकाला। तब तक रामसेवक और मुकेश की मौत हो चुकी थी। जबकि प्रहलाद की हालत गंभीर थी। उसको असोहा सीएचसी में भर्ती करवाया गया। जहां से डॉक्टरों ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

सूचना पर पहुंचे एसडीएम
ग्राम प्रधान पति हरिकेश यादव ने इस मामले की सूचना पुलिस को दी। सूचना पर एसडीएम राजेश चौरसिया, सीओ विक्रमाजीत सिंह, एसआई रजनीकांत पाण्डेय मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एसडीएम राजेश चौरसिया ने बताया की ट्यूबवेल का गड्ढा गहरा होने से तीनों फंस गए। संभावना है कि जहरीली गैसों से दम घुटने के चलते दोनों की मौत हुई होगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा।

खबरें और भी हैं...