• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • 70 Percent Of The Rooms Were Evacuated Without The Help Of Varanasi Police, The Students Were Missing From The Hostel By Locking, Breaking The Lock And Stuffed Them In Sacks

BHU के हॉस्टलों को खाली कराने का अभियान तेज:पुलिस के बिना ही खाली करा लिए 70 परसेंट कमरे, ताला बंदकर हॉस्टल से गायब थे छात्र

वाराणसीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
BHU के हॉस्टलों में अवैध रूप से कब्जा किए गए कमरों को खाली कराया गया। इस दौरान कमरे में विश्वविद्यालय के बाहरी भी लाेग भी मिले। - Dainik Bhaskar
BHU के हॉस्टलों में अवैध रूप से कब्जा किए गए कमरों को खाली कराया गया। इस दौरान कमरे में विश्वविद्यालय के बाहरी भी लाेग भी मिले।

वाराणसी स्थित काशी हिंदू विश्वविद्यालय में हॉस्टलों को खाली कराने का अभियान तेजी से चल रहा है। सामाजिक विज्ञान संकाय से लेकर कला संकाय तक के हॉस्टलों के 70 फीसद से अधिक कमरे कब्जे से मुक्त करा लिए गए हैं। अभी तक पुलिस की सहायता के बगैर ही संकाय और प्रॉक्टोरियल बोर्ड के ही स्तर पर कमरे खाली करवाए गए हैं। हालांकि किसी भी अनहोनी से बचने के लिए BHU मुख्य द्वार पर 1 कंपनी पीएससी तैनात रही।

कल से चल रहे इस अभियान में जो छात्र घर पर थे उनके कमरे का ताला तोड़ सामान बोरे में भरकर एक हॉल में सुरक्षित रखवा दिया गया है। वहीं इस दौरान छात्रों और विश्वविद्यालय प्रशासन के बीच नाेकझोक भी दिखी। मगर, शांतिपूर्वक ज्यादातर छात्रों को समझा-बुझाकर हॉस्टलों से निकाला गया।

एलबीएस छात्रावास में कमरा खाली कराते हुए प्रॉक्टोरियल बोर्ड और हॉस्टल एडमिनिस्ट्रेशन के सदस्य
एलबीएस छात्रावास में कमरा खाली कराते हुए प्रॉक्टोरियल बोर्ड और हॉस्टल एडमिनिस्ट्रेशन के सदस्य

बचे कमरे भी होंगे खाली

कला संकाय के एलबीएस छात्रावास में 60 फीसद कमरे अवैध कब्जे में थे, जिसमें काफी हद तक खाली हो चुका है। बचे कमरे भी आज शाम तक खाली करा लिए जाएंगे। वहीं सामाजिक संकाय के पंडित ब्रजनाथ व राजाराम हॉस्टल में रहने वाले छात्रों को अंतिम नोटिस देकर कमरा खाली करने या कार्रवाई की चेतावनी दी गई थी। उससे पहले ज्यादातर छात्र कमरा छोड़कर निकल गए। अब इन हॉस्टलों में केवल PhD वाले छात्र ही रह रहे हैं। 2 दिन के अंदर नए छात्रों को कमरे एलॉट कर दिए जाएंगे।

छात्रों के सामान को बोरे में पैक करते हुए सुरक्षाधिकारी
छात्रों के सामान को बोरे में पैक करते हुए सुरक्षाधिकारी

विडियोग्राफी कराई गई

हॉस्टल कोआर्डिनेटर डॉ. ज्ञान प्रकाश मिश्रा ने बताया कि लाल बहादुर शास्त्री छात्रावास के लगभग 60 कमरों के अवैध कमरों का ताला तोड़ वीडियोग्राफी कराई गई। विधिवत लिखा-पढ़ी के साथ लिस्ट बना समान बोरे में भरकर रखा दिया गया है। लगभग एक महीने से ज्यादा समय से अवैध कमरों को खाली करने के लिए नोटिस बार-बार दी गयी। बहुत से ऐसे कमरे भी मिले जिसमें विश्वविद्यालय के छात्र नहीं बल्कि बाहरी लोग रहते थे।

इन लोगों दूर-दूर तक बीएचयू से कभी कोई संबंध नहीं रहा। बता दें कि खाली कराने के लिए जिस टीम ने कार्य किया उसमें हास्टल कोआर्डिनेटर डॉ. ज्ञान प्रकाश मिश्र के साथ, एडमिस्टेटिव वार्डेन डॉ. अनिल सिंह, डॉ. अमर ज्योत सिंह, डॉ. ऋषि शर्मा, प्राक्टर डॉ. रणजीत सिंह, डॉ. सुजीत मेजर और कई सुरक्षागार्ड भी थे। कला संकाय के प्रमुख प्रोफेसर विजय बहादुर सिंह ने इस कार्य की सराहना की है और कहा कि आगे भी अवैध कमरों को खाली कराने का कार्य जारी रहेगा।

खबरें और भी हैं...