• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • Appeal Of Anjuman Intejamiya Masajid Committee In Varanasi After Maa Shringar Gauri Controversy Do Not Crowd For Friday Prayers In Gyanvapi Masjid, Police In Alert Mode

वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद में नमाज शांतिपूर्ण संपन्न:जुमे को देखते हुए 1500 से ज्यादा पुलिसकर्मी किए गए थे तैनात

वाराणसी4 महीने पहले

वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद में शुक्रवार को दोपहर में शांतिपूर्ण तरीके से जुमे की नमाज संपन्न हो गई। नमाज के दौरान कोई गड़बड़ी न हो इसके लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। भीड़ को देखते हुए सड़क के दोनों तरफ बैरीकेडिंग की गई थी। लोगों को बारी-बारी से मस्जिद में प्रवेश दिया गया। इस दौरान 50-50 मीटर के दायरे में पहली बार मीडिया के आने पर प्रतिबंध लगाया गया था। इसके पीछे पुलिस अफसरों का तर्क था कि भीड़ और ट्रैफिक के चलते ऐसा किया गया है।

ये तस्वीर ज्ञानवापी मस्जिद के बाहर की है। दोपहर में नमाज खत्म होने के बाद लोग बारी-बारी से बाहर निकलने लगे। इस दौरान थोड़ी देर के लिए बाहर भीड़ जमा हो गई।
ये तस्वीर ज्ञानवापी मस्जिद के बाहर की है। दोपहर में नमाज खत्म होने के बाद लोग बारी-बारी से बाहर निकलने लगे। इस दौरान थोड़ी देर के लिए बाहर भीड़ जमा हो गई।

श्रीकाशी विश्वनाथ धाम और ज्ञानवापी मस्जिद की 5 लेयर की सिक्योरिटी

श्रीकाशी विश्वनाथ धाम और ज्ञानवापी मस्जिद के चारों तरफ आज 5 लेयर की सिक्योरिटी देखने को मिली। परिसर के बाहर लगभग 1 किलोमीटर के दायरे में पुलिस और PAC के 1,500 जवान और कमांडों को तैनात किया गया था। लोकल इंटेलिजेंस यूनिट (LIU) को सूचना संकलन के काम में किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरतने के लिए कहा गया था।

पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश खुद सुरक्षा व्यवस्था की कमान संभालते हुए दिखाई दिए। उन्होंने अफसरों और फोर्स के साथ क्षेत्र में गश्त किया। उसके बाद दशाश्वमेध थाने का औचक निरीक्षण करने पहुंचे। पुलिसकर्मियों को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किया।

ये तस्वीर आज दोपहर की है। पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश गश्त के बाद दशाश्वमेध थाने का औचक निरीक्षण करने पहुंचे।
ये तस्वीर आज दोपहर की है। पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश गश्त के बाद दशाश्वमेध थाने का औचक निरीक्षण करने पहुंचे।

इस खबर में आगे बढ़ने से पहले एक पोल है, उसमें भी हिस्सा लेते चलिए

नमाज के लिए घर से ही वजू करके आएं
वहीं आज अंजुमन इंतेजामिया मसाजिद कमेटी की ओर से नमाजियों से अपील की थी कि ज्यादा संख्या में ज्ञानवापी मस्जिद में ना आएं। जुमे का दिन है। घर से ही वजू करके आएं। कोशिश करें कि अपने मोहल्ले की मस्जिदों में ही नमाज अदा करें।

ये तस्वीर नमाज से पहले की है। ज्ञानवापी मस्जिद के बाहर नमाज के लिए लोग बारी-बारी से मस्जिद में प्रवेश करते हुए दिखाई दिए।
ये तस्वीर नमाज से पहले की है। ज्ञानवापी मस्जिद के बाहर नमाज के लिए लोग बारी-बारी से मस्जिद में प्रवेश करते हुए दिखाई दिए।

मसाजिद कमेटी की अपील
मोहतरम हजरात, सलामे मस्तून।

जैसा कि आप हजरात को मालूम है कि शाही जामा मस्जिद ज्ञानवापी बनारस का मुकदमा इस वक्त मकामी अदालत के साथ-साथ हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में भी चल रहा है। यहां की मुकासी अदालत ने जामा मस्जिद के वजूखाने और इस्तिजा खाने 'शौचालय' को सील कर दिया है। इस मसले के हल के लिए हर मुमकिन कोशिश जारी है। अल्लाह करे जल्द ही इस परेशानी का हल निकल आए। आमीन...।

ज्ञानवापी मस्जिद में अधिकतम 700 लोग ही नमाज अदा कर सकते हैं। पिछले जुमे को मसाजिद कमेटी की अपील के बाद भी काफी संख्या में नमाजियों की भीड़ उमड़ पड़ी थी।
ज्ञानवापी मस्जिद में अधिकतम 700 लोग ही नमाज अदा कर सकते हैं। पिछले जुमे को मसाजिद कमेटी की अपील के बाद भी काफी संख्या में नमाजियों की भीड़ उमड़ पड़ी थी।

मस्जिद में 700 लोगों की क्षमता
मसाजिद कमेटी के अनुसार ज्ञानवापी मस्जिद में अधिकतम 700 लोग ही नमाज अदा कर सकते हैं। पिछले जुमे को मसाजिद कमेटी की अपील के बाद भी काफी संख्या में नमाजियों की भीड़ उमड़ पड़ी थी। जिसके बाद पुलिस ने लोगों को लौटा दिया था। हालांकि, इस बार पुलिस-प्रशासन पहले से ही सतर्क है। उधर, पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने कहा कि हमारी फोर्स लोगों के संपर्क में है। हमने अपील की है कि किसी भी अफवाह पर ध्यान ना दें। कानून व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस का सहयोग करें।

जुमे का दिन होने के चलते आज दोपहर में ज्ञानवापी मस्जिद के बाहर सड़कों पर भीड़ नजर आ रही है। कई लोग गाड़ियों से नमाज पढ़ने के लिए जाते हुए देखें गए।
जुमे का दिन होने के चलते आज दोपहर में ज्ञानवापी मस्जिद के बाहर सड़कों पर भीड़ नजर आ रही है। कई लोग गाड़ियों से नमाज पढ़ने के लिए जाते हुए देखें गए।

मंदिर को नुकसान पहुंचाने का आरोप
वाराणसी विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख जितेंद्र सिंह विसेन का कहना है कि ज्ञानवापी परिसर स्थित काशी विश्वेश्वर के मंदिर के ढांचे को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने चौक थाने में और DCP काशी जोन से शिकायत की है कि अंजुमन इंतेजामिया मसाजिद कमेटी और उसके फॉलोअर्स मंदिर को नुकसान पहुंचा रहे हैं। यह प्लेसेज ऑफ वर्शिप (स्पेशल प्रॉविजंस) एक्ट, 1991 की धारा 3 का उल्लंघन है। जितेंद्र सिंह विसेन ने कहा कि प्लॉट नंबर-9130 में काशी विश्वेश्वर का मंदिर है।

खबरें और भी हैं...