पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वाराणसी में सुसाइड:बैंक ऑफ बड़ौदा के कैशियर का शव घर से 1Km दूर पेड़ से लटका मिला, परिजनों में मचा कोहराम

वाराणसी10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
घर लगभग एक किलोमीटर दूर पेड़ से � - Dainik Bhaskar
घर लगभग एक किलोमीटर दूर पेड़ से �

उत्तर प्रदेध के वाराणसी में बैंक ऑफ बड़ौदा के कैशियर का शव शुक्रवार सुबह पेड़ की डाल के सहारे फंदे से लटका मिला। घर से लगभग एक किलोमीटर की दूरी पर स्थित नाले की ओर करीब 9 बजे स्थानीय लोगों ने पेड़ से लटकता शव देखा। डायल 112 को सूचना दी। सूचना पाकर लंका थाने की पुलिस पहुंची और परिजनों को सूचना दी। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है। पुलिस के अनुसार, परिजनों से बातचीत में यही पता लगा है कि मृतक शराब पीने के आदी थे। आशंका है कि इसी वजह से अवसादग्रस्त होकर उन्होंने फांसी लगाकर जान दी है।

कॉलोनी के लोग बोले- नहीं करते थे किसी से भी बातचीत
मामला लंका थाना अंतर्गत सामने घाट क्षेत्र की सर्वेश्वरी नगर कॉलोनी का है। यहां के रहने वाले यदुनंदन सिंह (54) बैंक ऑफ बडौदा की चांदपुर इंडस्ट्रियल स्टेट स्थित शाखा में कैशियर थे। मृतक के कंधों पर तीन बेटों व एक बेटी के साथ पूरे परिवार की जिम्मेदारी थी। कॉलोनी के लोगों ने बताया कि यदुनंदन सिंह के साथ ही उनके बच्चे भी अपने काम से काम रखते हैं। किसी से बातचीत भी नहीं करते थे। उधर, मृतक परिवार में कोहराम मचा है।

तीनों बेटों ने कहा- जो होना था हो ही गया, हमें हमारे हाल पर छोड़ दें
कैशियर के तीन बेटे 28, 26 और 20 साल के हैं। वहीं, उनकी इकलौती बेटी 19 साल की है। उनके बेटे कुलदीप, संदीप और सज्जन ने पिता की आत्महत्या के संबंध में कुछ भी कहने से साफ इनकार कर दिया। तीनों का कहना था कि जो होना था वह तो हो ही गया है। हमें हमारे हाल पर छोड़ दीजिए और कुछ न पूछिए। उधर, लंका इंस्पेक्टर महेश पांडेय ने बताया कि स्थानीय लोगों की सूचना पर मौके पर जाकर शव को फंदे से नीचे उतार कर पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया गया है। पीएम रिपोर्ट के आधार पर प्रकरण में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...