पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अच्छी खबर:BHU IIT के छात्रों को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और कंप्यूटर साइंस के क्षेत्र में मिलेगी रिलायंस फाउंडेशन स्काॅलरशिप

वाराणसी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छात्रवृत्ति के तहत चार से छह लाख रूपये तक का लाभ छात्रों को मिलेगा।    - Dainik Bhaskar
छात्रवृत्ति के तहत चार से छह लाख रूपये तक का लाभ छात्रों को मिलेगा।   
  • B.Tech और M.Tech डिग्री वाले छात्रों को मिलेगा लाभ

BHU IIT अकादमिक सत्र 2020-21 से अपने छात्रों के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) और कंप्यूटर साइंस के क्षेत्र में अधिकतम 40 छात्रवृत्तियां देने के संबंध में रिलायंस फाउंडेशन के साथ स्वीकृति पर हस्ताक्षर किया है। इस छात्रवृत्ति को रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के अध्यक्ष मुकेश अंबानी और रिलायंस फाउंडेशन की अध्यक्ष नीता अंबानी द्वारा लांच किया गया है। छात्रवृत्ति शैक्षणिक वर्ष 2020-21 सत्र से आरंभ हो जाएगी।

आगे छात्रवृत्ति का विस्तार अन्य क्षेत्रो में भी होगा

संस्थान के निदेशक प्रोफेसर प्रमोद कुमार जैन ने बताया कि इस छात्रवृत्ति का मुख्य उद्देश्य IIT के प्रतिभाशाली छात्रों को बौद्धिक रूप से और सशक्त बनाना है। इस पहल से नए स्काॅलर्स की एक कम्यूनिटी का निर्माण होगा जो कल के भारत के वैश्विक लीडर बन कर उभरेंगे। उन्होंने बताया कि भविष्य में, छात्रवृत्ति के अंतर्गत कवर किए गए क्षेत्र का विस्तार करने का इरादा है जिससे अन्य क्षेत्रों में अध्ययनरत छात्रों को भी ऐसी स्काॅलरशिप का लाभ मिल सके।

बैचलर और पीजी डिग्री धारकों को मिलेगा लाखों रुपए

शैक्षणिक मामलों के डीन प्रोफेसर श्याम बिहारी द्विवेदी ने बताया कि छात्रवृत्ति का लाभ उठाने के लिए, छात्रों को अपने पहले वर्ष में दाखिला लेने और कंप्यूटर विज्ञान, सूचना प्रौद्योगिकी ( IT ) या आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में डिग्री हासिल करने की आवश्यकता है। चयनित स्नातक स्कालर्स को चार-चार वर्ष की अवधि के लिए प्रति वर्ष एक लाख के आधार पर कुल चार लाख रुपए दिए जाएंगे। वहीं, चयनित स्नातकोत्तर स्कालर्स को दो-दो वर्ष की अवधि के लिए प्रति वर्ष तीन लाख रुपए के आधार पर कुल छह लाख रुपए दिए जाएंगे।

छात्रों का चयन व्यक्तिगत योग्यता पर होगा

कंप्यूटर विज्ञान एवं इंजीनियरिंग का अध्ययन कर रहे बीटेक 4 वर्ष, बीटेक-एमटेक डुअल डिग्री 5 वर्ष और मैथमैटिक्स एवं कंप्यूटर विज्ञान में बीटेक-एमटेक की डुअल डिग्री पांच वर्ष के छात्र इस स्काॅलरशिप के लिए आवेदन कर सकेंगे।