मुख्तार के करीबी पर कार्रवाई:वाराणसी में मुख्तार अंसारी के करीबी मेराज के घर गरजा वीडीए का बुलडोजर, अवैध निर्माण किया गया ध्वस्त

वाराणसीएक वर्ष पहले
मेराज पर कैंट थाने और मिर्जामुराद में भी कई मुकदमे दर्ज है।
  • ध्वस्तीकरण की कार्रवाई के दौरान आलाधिकारियों संग जैतपुरा पुलिस, पीएसी भी मौजूद रही
  • मेराज पर फर्जी दस्तावेजों के जरिये शस्त्रों के नवीनीकरण का भी आरोप है

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में गुरुवार को अशोक बिहार कालोनी में मुख्तार अंसारी के करीबी मेराज अहमद के घर को वाराणसी विकास प्राधिकरण (वीडीए) ने ध्वस्त कर दिया। अवैध निर्माण को लेकर दो महीने पहले वीडीए ने नोटिस जारी किया था। वीडीए अधिकारियों संग कई थानों की फोर्स भी मौजूद थी।

मकान के पिछले हिस्से में अवैध निर्माण कराया गया था

वीडीए अधिकारी परमानंद यादव ने बताया कि मेराज अहमद के पीछे के मकान में अवैध निर्माण कराया गया था। नोटिस जारी होने के बाद खुद से ध्वस्तीकरण नही किया गया था। इसलिए आज कार्रवाई की गयी है। सीओ संतोष कुमार और जैतपुरा थाना प्रभारी शशिभूषण राय भी मौजूद रहे।

मुख्तार अंसारी के करीबी भाई मेराज पर फर्जी दस्तावेजों से शस्त्रों के नवीनीकरण का आरोप भी है। कुछ दिनों पहले ही मेराज ने आत्मसमर्पण किया था। मेराज के ऊपर आईपीसी की धारा 419, 420, 467, 468, 470, 471, 216 सहित 120 बी के तहत मुकदमा दर्ज है। मेराज पर कैंट थाने में 19 मुकदमे दर्ज हैं।