मोदी के बगल में क्यों खड़े होते हैं टेनी:वाराणसी में CM बघेल बोले- कानून हाथ में लेने वाला अगर अपराधी तो बर्खास्त क्यों नहीं करते

वाराणसी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वाराणसी के कोरौता बाजार में रैली को संबोधित करते छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल। - Dainik Bhaskar
वाराणसी के कोरौता बाजार में रैली को संबोधित करते छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी को अब तक बर्खास्त क्यों नहीं किया है। अगर कानून को हाथ में लेने वाला उनकी नजर में अपराधी है, तो अजय मिश्र टेनी उनके साथ क्यों खड़े होते हैं। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को वाराणसी के कोरौता बाजार के रामलीला मैदान में जनहित संकल्प महारैली को संबोधित करते हुए यह बात कही।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के 300 यूनिट बिजली फ्री देने के सवाल पर उन्होंने कहा कि हम तो अपने प्रदेश में 400 यूनिट फ्री दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की प्रतिज्ञा को देखिए। उसमें किसानों, नौजवानों, गृहणियों सहित समाज के सभी वर्ग के हितों को संरक्षित करने की बात कही गई है।

वाराणसी एयरपोर्ट पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का स्वागत करते कांग्रेस के स्थानीय नेता।
वाराणसी एयरपोर्ट पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का स्वागत करते कांग्रेस के स्थानीय नेता।

सरदार पटेल की धरती से जुमलों का सरदार निकला

भूपेश बघेल ने कहा कि भाजपा सरकार लगातार मेहनतकश लोगों को पीछे ढकेलने का काम कर रही है। अब गुजरात से कुछ लोग यहां आए हैं, जो लोगों को ठगने का काम कर रहे हैं। इन्होंने 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने की बात कही थी। किसानों की आय दोगुनी करने की बात कही थी, लेकिन कुछ नहीं हुआ। यह जुमलों की सरकार है।

उन्होंने कहा कि सरदार पटेल की धरती से एक जुमलों का सरदार भी निकला है। उनकी बातों से जनता और लोग परेशान हैं और उन्हें सबक भी सिखाना चाहते हैं। आने वाले यूपी के चुनाव में जनता उन्हें सबक सिखाएगी। इससे पहले बाबतपुर एयरपोर्ट से कोरौता तक महारैली निकाली गई। इसका नेतृत्व सरदार सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. आरएस पटेल और प्रदेश अध्यक्ष छोटेलाल मौर्य ने किया।

इस दौरान सरदार सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरएस पटेल ने कहा कि 2022 के चुनाव में सरदार सेना कांग्रेस पार्टी का साथ देगी। वंचितों को मुख्य मुख्य धारा से जोड़ा जाएगा और जातिगत जनगणना कराई जाएगी।

CM बघेल के संबोधन की अन्य प्रमुख बातें

  • नए सरकारी पदों में आरक्षण प्रावधानों के अनुसार 40% महिलाओं की नियुक्ति की जाएगी। आंगनबाड़ी और आशा बहुओं को 10,000 रुपए प्रतिमाह मानदेय दिया जाएगा।
  • छात्राओं को स्मार्टफोन और स्कूटी दी जाएगी। महिलाओं के लिए फ्री बस सेवा की व्यवस्था की जाएगी।
  • वृद्धावस्था पेंशन प्रतिमाह 10000 रुपए दिया जाएगा। प्रदेश में वीरांगनाओं के नाम पर 75 दक्षता विद्यालय खोले जाएंगे।

कई नेताओं ने रामलीला मैदान में सभा को किया है संबोधित

जनहित संकल्प महारैली का आयोजन रोहनिया विधानसभा क्षेत्र के कोरौता बाजार में किया गया। इस विधानसभा क्षेत्र में OBC वोट बैंक सबसे ज्यादा है। इसके आसपास के विधानसभा क्षेत्रों का भी कुछ ऐसा ही हाल है। इस मैदान पर सभा करके अपना दल के संस्थापक डॉ. सोनेलाल पटेल ने प्रदेश में चुनावी बिगुल फूंका था। इसके अलावा इस मैदान से पूर्व प्रधानमंत्री वीपी सिंह, बसपा सुप्रीमो मायावती, शरद यादव और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी जनसभाओं को संबोधित कर चुके हैं।

जानकारों का कहना है कि भूपेश बघेल कांग्रेस के OBC फेस हैं। रामलीला मैदान से वह रोहनिया और सेवापुरी विधानसभा के साथ ही आसपास के अन्य विधानसभा क्षेत्रों में रहने वाले OBC के मतदाताओं को कांग्रेस के पाले में खींचने का प्रयास करेंगे।

खबरें और भी हैं...