महाराज जी...ऐसे कैसे रोकेंगे कोरोना की रफ्तार:वाराणसी में CM योगी खुद नहीं लगाए दिखे मास्क; छात्र-छात्राओं का हुजूम भूला सोशल डिस्टेंसिंग का नियम

वाराणसी5 महीने पहले

यूपी में कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार अनियंत्रित होती जा रही है। वाराणसी में भी 421 एक्टिव केस हैं। इस बीच प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को सिगरा स्थित रुद्राक्ष इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में 1500 युवाओं को टैबलेट और स्मार्टफोन देने पहुंचे, तो वह खुद ही मास्क ही नहीं लगाए हुए थे। ऐसे में लाख टके का सवाल यह है कि वह कैसे अपने प्रदेश की जनता को मास्क लगाने के लिए प्रेरित करेंगे।

वहीं, मुख्यमंत्री के हाथों स्मार्टफोन लेने आए ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन के छात्र-छात्राएं सोशल डिस्टेंसिंग के नियम को तार-तार कर बगैर मास्क के ही फोटो खिंचवाते हुए नजर आए। इन हालात में कोरोना के संक्रमण की रफ्तार पर लगाम कैसे लगेगी।

तस्वीरों में देखें, कैसे उड़ी कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां...!

कोरोना वायरस के संक्रमण की तीसरी लहर के बीच इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर रुद्राक्ष में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम को दरकिनार कर बैठे हुए छात्र-छात्राएं।
कोरोना वायरस के संक्रमण की तीसरी लहर के बीच इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर रुद्राक्ष में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम को दरकिनार कर बैठे हुए छात्र-छात्राएं।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बगैर मास्क लगाए हुए ही छात्रा को स्मार्टफोन देते हुए।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बगैर मास्क लगाए हुए ही छात्रा को स्मार्टफोन देते हुए।
कार्यक्रम में अन्य लोग मास्क लगाए दिखे लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बगैर मास्क के ही टैबलेट और स्मार्ट फोन वितरित करते नजर आए।
कार्यक्रम में अन्य लोग मास्क लगाए दिखे लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बगैर मास्क के ही टैबलेट और स्मार्ट फोन वितरित करते नजर आए।
कार्यक्रम में अन्य लोग मास्क लगाकर बैठे नजर आए, लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के चेहरे पर मास्क नहीं दिखा। यह बात जरूर थी कि वह सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करते हुए बैठे थे।
कार्यक्रम में अन्य लोग मास्क लगाकर बैठे नजर आए, लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के चेहरे पर मास्क नहीं दिखा। यह बात जरूर थी कि वह सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करते हुए बैठे थे।
खबरें और भी हैं...