25 पार्सल पैकेट जब्त:बनारस रेलवे स्टेशन पर वाणिज्य कर की टीम ने मारा छापा, काशी विश्वनाथ स्पेशल से आया माल कब्जे में लिया

वाराणसीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बनारस रेलवे स्टेशन पर वाणिज्य कर विभाग द्वारा जब्त किए गए पार्सल पैकेट। - Dainik Bhaskar
बनारस रेलवे स्टेशन पर वाणिज्य कर विभाग द्वारा जब्त किए गए पार्सल पैकेट।

वाणिज्य कर विभाग की टीम ने शनिवार को बनारस रेलवे स्टेशन पर छापा मारा। काशी विश्वनाथ स्पेशल ट्रेन से बिना दस्तावेज के 25 पैकेट को जब्त कर लिया। इस बीच रेल कर्मचारियों और वाणिज्य कर विभाग की टीम ने अधिकार क्षेत्र को लेकर नोकझोंक भी हुई। आला अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद मामला सुलझा।

कार्रवाई में एडिशनल कमिश्नर ग्रेड -1 प्रदीप कुमार, एडिशनल कमिश्नर ग्रेड -2 मिथिलेश कुमार शुक्ला, संयुक्त आयुक्त बीआर सिंह, असिस्टेंट कमिश्नर एसपी पांडेय, महेश चंद्र आदि शामिल रहे।

बनारस रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ के अफसर से बात करते वाणिज्य कर विभाग के अधिकारी।
बनारस रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ के अफसर से बात करते वाणिज्य कर विभाग के अधिकारी।

कैंट स्टेशन पर विजिलेंस की टीम ने मारा छापा

वाराणसी के कैंट रेलवे स्टेशन पर शनिवार को विजिलेंस की टीम ने छापा मारा। छापे के दौरान जनरल बुकिंग काउंटर से लेकर आरक्षण केंद्र और पार्सल कार्यालय में बारीकी से जांच की गई। रेल राजस्व चोरी की आशंका में एलटीटी-बनारस स्पेशल, महानगरी और महामना स्पेशल से आए लीज पार्सल की जांच भी टीम ने की। इसके साथ ही साबरमती स्पेशल और ओखा-वाराणसी स्पेशल का लीज भी चेक किया गया। हालांकि कोई गड़बड़ी तो नहीं मिली लेकिन विजिलेंस के छापे से रेल कर्मचारियों में हड़कंप मचा हुआ था।

चेकिंग स्टाफ से की गई पूछताछ

दिवाली को देखते हुए दिल्ली और मुंबई समेत विभिन्न महानगरों से भारी मात्रा में रेलों से सामान आता है। रेल राजस्व की चोरी की सूचना पर 3 सदस्यीय टीम कैंट रेलवे स्टेशन आई थी। टीम ने ट्रेनों से आए पार्सल पैकेट की तौल कराने का निर्देश दिया। आरपीएफ की मौजूदगी में सभी पैकेट का वजन देखा गया। इसके बाद टीम के सदस्य आरक्षण केंद्र गए जहां कैश के साथ ही टिकट की जानकारी का मिलान किया गया। आरक्षण में भी सब कुछ सामान्य रहा। प्लेटफार्म पर ड्यूटी चेकिंग स्टॉफ से भी पूछताछ हुई।