कर्ज के दबाव में दे दी जान:वाराणसी में 7 दिन से लापता युवक का शव मिला, घर में लिख कर छोड़ गया था सुसाइड नोट

वाराणसी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नागेंद्र जैन उर्फ दीपू। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
नागेंद्र जैन उर्फ दीपू। (फाइल फोटो)

वाराणसी में केदार घाट के सामने गंगा उस पार उतराया मिला शव शहावाबाद निवासी नागेंद्र जैन उर्फ दीपू (26) का था। नागेंद्र के घर से बरामद हुए सुसाइड नोट के अनुसार वह कई लोगों से लाखों रुपए कर्ज लिया हुआ था और उसके चलते भारी दबाव में था। रविवार को भेलूपुर थाने की पुलिस ने नागेंद्र का शव पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। उसके सुसाइड नोट और परिजनों के बयान के आधार पर पुलिस घटना की जांच कर रही है।

रहने लायक नहीं, मैं बहुत बुरा हूं

रोहनिया थाने की पुलिस को नागेंद्र के भाई ने एक सुसाइड नोट दिया है। उसमें कुछ लोगों से 8 लाख, 1.85 लाख, 1.30 लाख, 50 हजार, 50 हजार और 27 हजार रुपए उधार लेने की बात उसने लिखी है। ब्याज पर रुपए उधार लेने के बाद उसे चुकता नहीं कर पा रहा था। अपनी मां को संबोधित करते हुए लिखा है कि उसकी मौत के बाद एलआईसी का रुपया मिलेगा तो सबका कर्ज चुका दिया जाए। एक जमीन के सौदे के बारे में भी लिखा है। लेटर के आखिरी में लिखा है, रहने लायक नहीं था, मैं बहुत बुरा हूं...।

2 जनवरी की रात घर से निकला था

नागेंद्र बीती 2 जनवरी की रात 10:30 बजे घर से निकला था और फिर वापस नहीं लौटा। परिजनों ने रोहनिया थाने में 4 जनवरी को उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रोहनिया थाने की पुलिस और परिजन नागेंद्र की तलाश कर रहे थे। शुक्रवार को केदार घाट के सामने गंगा उस पार एक युवक का शव पुलिस को उतराया मिला था। पुलिस के प्रयास के बाद रविवार को शव की शिनाख्त नागेंद्र के तौर पर हुई।

एक साल से बेरोजगार था नागेंद्र

नागेंद्र 9 भाई-बहनों में 8वें नंबर पर था। महमूरगंज स्थित एक वाहन शोरूम और सर्विस सेंटर में वह मोटर मकैनिक के पद पर काम करता था। 1 साल पहले उसकी नौकरी छूट गई थी। उसके बाद पिता की बर्तन-कपड़े की दुकान में हाथ बंटाता था। उसकी लाश मिलने के बाद मां रन्नो देवी, बहन राज दुलारी देवी, श्याम दुलारी, उषा, आशा व दीक्षा और भाई महेश कुमार, गणेश कुमार व राजेश कुमार का रो-रोकर बुरा हाल थे।

उधर, इंस्पेक्टर भेलूपुर रमाकांत दुबे ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत की वजह स्पष्ट होगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट और परिजनों की तहरीर के आधार पर प्रकरण में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...