वाराणसी...होटल में युवक ने किया सुसाइड:पत्नी से बोला था- बच्चों का ख्याल रखना, मैं बहुत दूर जा रहा हूं

वाराणसी25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सारनाथ क्षेत्र में चन्द्रा और आशापुर रेलवे क्रासिंग के बीच रेल की पटरी पर एक युवक का शव मिला। - Dainik Bhaskar
सारनाथ क्षेत्र में चन्द्रा और आशापुर रेलवे क्रासिंग के बीच रेल की पटरी पर एक युवक का शव मिला।

वाराणसी के अमरा अखरी क्षेत्र स्थित एक होटल में शनिवार को एक ड्राइवर ने फांसी लगा कर जान दे दी। वहीं, सारनाथ क्षेत्र में एक युवक का क्षतविक्षत शव रेलवे ट्रैक पर मिला। स्थानीय लोगों की सूचना पर रोहनिया और सारनाथ थाने की पुलिस ने दोनों का शव पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

पत्नी से बोला था बच्चों का ख्याल रखना

वाराणसी के अमरा अखरी क्षेत्र स्थित एक होटल में शनिवार को एक ड्राइवर ने फंदे से लटक कर जान दे दी। वहीं, सारनाथ क्षेत्र में एक युवक का शव रेलवे ट्रैक पर मिला। लोगों की सूचना पर रोहनिया और सारनाथ थाने की पुलिस ने दोनों शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे।

पत्नी से बोला था- बच्चों का ख्याल रखना

रोहनिया थाना अंतर्गत अमरा अखरी स्थित पेट्रोल पंप के पीछे स्थित होटल में नुवांव निवासी अभय कुमार सिंह (40) कमरा लेकर ठहरा था। होटल स्टाफ ने शनिवार को चेक आउट करने के लिए कमरे का दरवाजा खटखटाया, तो नहीं खुला। स्टाफ ने खिड़की से झांक कर देखा तो अभय पंखे के सहारे फंदे से लटका था। होटल प्रबंधन की सूचना पर रोहनिया थाने की पुलिस आई और दरवाजा तोड़ कर शव नीचे उतारा गया।

परिजनों ने बताया कि शनिवार की सुबह अभय ने पत्नी आभा को फोन करके कहा था कि मैं बहुत दूर जा रहा हूं। तुम बच्चों का ख्याल रखना। अभय की बात आभा समझ नहीं पाई। क्योंकि ट्रेवेल्स की गाड़ी चलाने के कारण अकसर वह दूर जाता रहता था।

परिजनों ने बताया कि शराब पीने की लत के कारण अभय घर में विवाद करता रहता था। दो साल पहले भी उसने जहर खाकर जान देने की कोशिश की थी। लेकिन इलाज से उसकी जान बच गई थी। अभय दो भाइयों में बड़ा था और उसकी दो बेटियां व एक बेटा है।

रेलवे ट्रैक पर मिला युवक का शव

सारनाथ क्षेत्र में चन्द्रा और आशापुर रेलवे क्रासिंग के बीच रेल की पटरी पर एक युवक का शव मिला। पुलिस के अनुसार उसकी उम्र लगभग 25 वर्ष लग रही थी। वह सफेद रंग की फुल शर्ट, भूरे रंग का लोवर और गोल गले की टी-शर्ट पहने था। उसके जेब से ऐसा कोई कागज नहीं मिला जिससे कि शिनाख्त हो सके।

वहीं, क्षेत्र के लोगों ने युवक की हत्या कर शव रेलवे ट्रैक पर फेंकने की आशंका जताई है। सारनाथ थाने की पुलिस ने बताया कि शिनाख्त कराने का प्रयास किया जाएगा।

रोहनिया थाना अंतर्गत अमरा अखरी स्थित पेट्रोल पंप के पीछे स्थित होटल में नुवांव निवासी अभय कुमार सिंह (40) कमरा लेकर ठहरा हुआ था। होटल स्टाफ ने शनिवार को चेक आउट करने के लिए अभय के कमरे का दरवाजा खटखटाया तो नहीं खुला। होटल स्टाफ ने खिड़की से झांक कर देखा तो अभय पंखे के सहारे फंदे से लटका हुआ था। होटल प्रबंधन की सूचना पर रोहनिया थाने की पुलिस आई और दरवाजा तोड़ कर शव फंदे से नीचे उतारा गया।

पुलिस की सूचना पर आए परिजनों ने बताया कि शनिवार की सुबह अभय ने अपनी पत्नी आभा को फोन करके कहा था कि मैं बहुत दूर जा रहा हूं। तुम बच्चों का ख्याल रखना। अभय की बात आभा समझ नहीं पाई क्योंकि ट्रेवेल्स की गाड़ी चलाने के कारण अकसर वह बहुत दूर जाता रहता था।

परिजनों ने बताया कि शराब पीने की लत के कारण अभय घर में विवाद करता रहता था। दो साल पहले भी उसने विषाक्त पदार्थ खाकर जान देने की कोशिश की थी लेकिन इलाज के दौरान उसकी जान बच गई थी। अभय दो भाइयों में बड़ा था और उसकी दो बेटियां व एक बेटा है।

रेलवे ट्रैक पर मिला युवक का शव

सारनाथ क्षेत्र में चन्द्रा और आशापुर रेलवे क्रासिंग के बीच रेल की पटरी पर एक युवक का शव मिला। सारनाथ थाने की पुलिस के अनुसार युवक की उम्र लगभग 25 वर्ष प्रतीत हो रही थी। वह सफेद रंग की फुल शर्ट, भूरे रंग का लोवर और गोल गले की टी-शर्ट पहने हुआ था। उसके जेब से ऐसा कोई कागज नहीं मिला जिससे कि शव की शिनाख्त हो सके।

वहीं, क्षेत्र के लोगों ने युवक की हत्या कर शव रेलवे ट्रैक पर फेंकने की आशंका जताई है। सारनाथ थाने की पुलिस ने बताया कि अगले 72 घंटे तक शव की शिनाख्त कराने का प्रयास किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...