उत्तर भारत से लौट गया मानसून:वाराणसी में गंगा का जलस्तर 2.75 मीटर बढ़ा, आज लोकल इफेक्ट की वजह से हल्की बारिश के आसार

वाराणसी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वाराणसी में आज भी बादल छाए हैं। दोपहर के बाद मौसम सामान्य होने की उम्मीद जताई जा रही है। - Dainik Bhaskar
वाराणसी में आज भी बादल छाए हैं। दोपहर के बाद मौसम सामान्य होने की उम्मीद जताई जा रही है।

दो दिनों तक हुई बारिश के बाद वाराणसी में आज तड़के सुबह में लाेग ठिठुरते-कांपते दिखे। मौसम में अभी भी नमी बनी हुई है। घने बादल के बाद कुछ देर के लिए धूप भी दिखाई दी। धूप निकलने से लोगों ने गर्माहट का एहसास किया। इस दौरान वाराणसी का औसत तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। जबकि न्यूनतम तापमान 23 डिग्री और अधिकतम 30 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम वैज्ञानिकों ने आज लोकल इफेक्ट की वजह से हल्की बारिश का अनुमान जताया है।

वार्निंग लेवल से 4 मीटर कम है गंगा

2 दिन में 120 मिलीमीटर की बारिश ने एक ओर जहां सड़कों का हाल बुरा करा दिया, तो वहीं गंगा की लहरें भी उफान पर हैं। 3 दिन में गंगा के जलस्तर में करीब 2.75 मीटर की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। गंगा में पानी का लेवल आज 66 मीटर पर पहुंच गया है। इससे 3 दिन पहले 63 मीटर पर था।

वहीं शुक्रवार को यह 64 मीटर था। गंगा में पानी अभी वार्निंग लेवल 70.262 से 4 मीटर कम है। अब बारिश की कोई विशेष संभावना नहीं है, इसलिए गंगा में जल की रफ्तार और मात्रा दोनों थमेगी। शहर का एयर क्वालिटी इंडेक्स शुक्रवार के 27 अंक के मुकाबले 9 अंक अधिक होकर 36 पर आ गया है।

गंगा का जलस्तर बढ़ने के बाद किनारों पर कटाव तेज हो गया है।
गंगा का जलस्तर बढ़ने के बाद किनारों पर कटाव तेज हो गया है।

आज लोकल इफेक्ट की वजह से हल्की बारिश का अनुमान

माैसम विभाग के अनुसार वाराणसी में आज 11 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है। वहीं आर्द्रता भी घटकर 78 फीसद पर आ गई है। इसलिए वाराणसी में अब हल्की बारिश ही होगी। BHU के मौसम वैज्ञानिक प्रोफेसर मनोज कुमार श्रीवास्तव के अनुसार वाराणसी में आज भी बादल बने हुए हैं। इसके पीछे मानसून या बंगाल वाले चक्रवात नहीं बल्कि लोकल इफेक्ट है। आर्द्रता अत्यधिक होने की वजह से कहीं-कहीं स्थानीय बादल शहर को घेरेंगे। इससे अलग-अलग स्थानों पर बारिश हो सकती है। प्रो. श्रीवास्तव ने बताया कि लोकल इफेक्ट डिप्रेशन की वजह से बादल बन रहे हैं। बादलों के छंटते ही मौसम सामान्य हो जाएगा।

खबरें और भी हैं...