• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • Expressed Displeasure By Planting Paddy On The Road, People Troubled By Waterlogging And Potholes Demonstrated In Varanasi; Said No Hearing Even After Continuous Complaints

सड़क पर धान रोप कर जताई नाराजगी:वाराणसी में जलभराव से परेशान लोगों ने किया प्रदर्शन; बोले- शिकायत के बाद भी सुनवाई नहीं

वाराणसी2 महीने पहले
जलभराव और गड्‌ढों की समस्या से परेशान लोगों ने आज वाराणसी में सड़क पर धान की रोपाई की।

वाराणसी में सड़क के गड्‌ढों और जलभराव की समस्या से परेशान लोगों ने रविवार को प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान सभी ने सड़क पर ही धान की रोपाई की। सभी ने कहा कि प्रधानमंत्री जनसंपर्क कार्यालय, सीएम जनसुनवाई पोर्टल, स्थानीय विधायक और डीएम से लेकर नगर निगम तक लगातार शिकायत की गई, लेकिन कहीं हमारी सुनवाई नहीं हुई।

सड़क के गड्‌ढों और जलभराव की समस्या से हम लोग आजिज आ गए हैं। इसलिए आज हम सभी ने सड़क पर धान की रोपाई कर अपना गुस्सा जाहिर किया है। देखते हैं, हम लोगों की फरियाद पर आखिरकार जिम्मेदारों का ध्यान कब जाता है।

कॉलोनी के लोगों ने कहा कि सभी उचित फोरम पर लगातार शिकायत करने के बावजूद हमारी सुनवाई कहीं नहीं हो रही है। इसलिए हम लोगों ने सड़क पर धान रोपने का निर्णय लिया।
कॉलोनी के लोगों ने कहा कि सभी उचित फोरम पर लगातार शिकायत करने के बावजूद हमारी सुनवाई कहीं नहीं हो रही है। इसलिए हम लोगों ने सड़क पर धान रोपने का निर्णय लिया।

चार साल से हम लोग परेशान हैं

वाराणसी में काशी हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) के समीप नासिरपुर क्षेत्र में विवेक नगर कॉलोनी है। कॉलोनी में रहने वाले पिंटू सिंह ने कहा कि हम लोग जलभराव और सड़क पर गड्‌ढे की समस्या से चार साल से जूझ रहे हैं। ऐसा कोई उचित फोरम नहीं है जहां हम लोगों ने शिकायत न की हो, इसके बावजूद समस्या का समाधान नहीं हो रहा है।

छोटे बच्चों को स्कूल जाने में परेशानी होती है। रोजाना बाइक सवार गड्‌ढों के कारण गिरते रहते हैं। तरह-तरह के संक्रामक रोगों के फैलने का डर अलग से लगा रहता है। इसलिए जब कुछ नहीं सूझा तो आज हम लोगों ने सड़क पर धान की रोपाई कर प्रशासन को आईना दिखाने का प्रयास किया है।

कॉलोनी के लोगों ने कहा कि सड़क पर पानी भरने के कारण बच्चों को स्कूल जाने में परेशानी होती है। संक्रामक रोगों के फैलने का डर अलग से बना रहता है।
कॉलोनी के लोगों ने कहा कि सड़क पर पानी भरने के कारण बच्चों को स्कूल जाने में परेशानी होती है। संक्रामक रोगों के फैलने का डर अलग से बना रहता है।

पीड़ा को प्रदर्शित करने का प्रयास किया है

सुदर्शन सिंह ने कहा कि विधानसभा और लोकसभा के चुनाव के दौरान नेता घर-घर आते हैं और हाथ जोड़कर हमें अपना बताते हैं। उसके बाद हम लोगों से उनका कोई सरोकार नहीं रह जाता है। हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में नगर निगम के दायरे में रह रहे हैं।

काशी के सांसद यानी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम कॉलोनी के लोगों ने शिकायती पत्र लिख कर उनके जनसंपर्क कार्यालय में दिया। इसके बाद भी समस्या का समाधान नहीं हुआ।
काशी के सांसद यानी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम कॉलोनी के लोगों ने शिकायती पत्र लिख कर उनके जनसंपर्क कार्यालय में दिया। इसके बाद भी समस्या का समाधान नहीं हुआ।

सुदर्शन सिंह ने कहा कि लगातार शिकायतों के बावजूद हमारी समस्या का समाधान नहीं हो रहा है। जब कोई हमारी सुधि लेने नहीं आया तो आज हम सबने सड़क पर धान की रोपाई कर अपनी पीड़ा को प्रदर्शित करने का प्रयास किया है।

खबरें और भी हैं...