पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मिर्जापुर में रोटी के लिए बेटे की हत्या:पहले खाना खाने के लिए बेटे ने नशे में पिता को धक्का मारा, गुस्साए पिता ने बेटे को फावड़े से काट डाला

मिर्जापुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बेटे के शव को देख दहाड़ मारकर रो रही मां की आवाज सुनकर ग्रामीणों को हत्या की जानकारी हुई। शव का चोरी छिपे अंतिम संस्कार की तैयारी में लोग जुटे थे। - Dainik Bhaskar
बेटे के शव को देख दहाड़ मारकर रो रही मां की आवाज सुनकर ग्रामीणों को हत्या की जानकारी हुई। शव का चोरी छिपे अंतिम संस्कार की तैयारी में लोग जुटे थे।

यहां कछवां थाना क्षेत्र के आही बंधवा गांव में बीती रात नशेड़ी पिता और उसके बेटे में खाने के दौरान रोटी को लेकर झगड़ा हो गया। वाद विवाद में बेटे ने खाना खाने बैठे पिता को धक्का देकर हटा दिया। जिससे पिता नाराज हो गया। कुछ देर बाद नशे में धुत पिता सुक्खू ने 30 वर्षीय चंद्रशेखर पर पीछे से फावड़े से वार कर दिया। जिससे उसकी मौत हो गयी। जिसके बाद आरोपी बाप फरार हो गया।

कई दिन से चल रहा था विवाद

नशे की गिरफ्त में फंसा सुक्खू और उसके पुत्र में कई दिन से विवाद चल रहा था। खाने के वक्त पिता को झूमता देख बेटा कमाई के बजाय शराब पर रूपया बहाने पर आपत्ति करता था। लिहाजा करीब तीन दिन से यह विवाद चल रहा था। मां ने अपने बेटे और पति को भोजन परोसा। पिता ने और रोटी की मांग की। इस पर बेटे ने ताना मारा कि इतनी ललक कमाई की होती तो अच्छा था। केवल शराब पीने से रुपया नही आयेगा। कहा-सुनी के दौरान माहौल धक्का मुक्की में बदल गया। मां ने रोकने का प्रयास किया। सुक्खू गुस्से में उठा और जब लौटा तो फावड़े से खाना खा रहे बेटे चंद्रशेखर पर वार कर दिया। उसके एक वार में ही बेटा चंद्रशेखर मौत के मुंह में चला गया।

शव को गंगा में बहाने की थी तैयारी

चंद्रशेखर आरोपी पिता का बड़ा बेटा था। वह अविवाहित था। जबकि छोटे बेटे मुखिया की शादी हो गई है। पेशे से दोनो मेहनत मजदूरी करते और रात में शराब पीने के आदी बताए गए है। चंद्रशेखर की हत्या कर पिता फरार हो गया। भाई की मौत के बाद छोटा भाई मुखिया उसके अंतिम संस्कार की तैयारी कर रहा था। इसी बीच जानकारी मिलने पर पहुंची पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेकर फरार हत्यारोपी की तलाश शुरू कर दी है।

चर्चा है कि भाई की मौत और पिता के फरार हो जाने के बाद छोटे भाई ने शव को गंगा नदी में प्रवाहित करने का प्रयास किया। मैजिक वाहन में शव लेकर नदी किनारे की तरफ बढ़े लेकिन पुलिस को देख कर वह लौट आए। बेटे के शव को देख दहाड़ मारकर रो रही मां की आवाज सुनकर ग्रामीणों को हत्या की जानकारी हुई। शव का चोरी छिपे अंतिम संस्कार की तैयारी में लोग जुटे थे।

पड़ोसी ने दी है तहरीर

थाना प्रभारी निरीक्षक अमित सिंह के अनुसार शराब के नशे में कल रात भी पिता-पुत्र में कहासुनी हुई। पिता ने पुत्र पर फावड़े से हमला कर दिया। पुत्र को लहूलुहान होकर तड़पते देख पिता भाग निकला। जिससे उसकी मृत्यु हो गई। वादी ओमप्रकाश की तहरीर पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में कर लिया है। मामला दर्ज कर फरार आरोपी की तलाश की जा रही हैं।

खबरें और भी हैं...