अयोध्या जमीन विवाद:अखिल भारतीय संत समिति के महामंत्री स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती बोले-जब कोई गड़बड़ी हुई ही नहीं तो फिर किस बात की हो सीबीआई जांच

वाराणसी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने कहा है कि राम मंदिर का निर्माण कांग्रेस, सपा और आम आदमी पार्टी पचा नहीं पा रही है। - Dainik Bhaskar
स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने कहा है कि राम मंदिर का निर्माण कांग्रेस, सपा और आम आदमी पार्टी पचा नहीं पा रही है।

अखिल भारतीय संत समिति के महामंत्री स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने मंगलवार को वाराणसी में राम मंदिर के लिए जमीन की खरीद पर हो रहे विवाद को पूरी तरह से निराधार बताया। उन्होंने कहा कि हमें रामलला के मंदिर के लिए जमीन की जरूरत थी। हमें रामलला का निरापद मंदिर चाहिए। हमने 500 वर्षों तक संघर्ष किया है और अब आगे अयोध्या में कोई विवाद नहीं चाहते। जरूरत पड़ती तो हम उस जमीन के लिए 20 करोड़ ही नहीं 200 करोड़ रुपये भी देने को तैयार मिलते। रामलला के मंदिर को लेकर किसी भी तरह का कोई आक्षेप लगाएगा तो काशी ही नहीं बल्कि देश भर के संत चुप नहीं बैठेंगे।

स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने गड़बड़ी की बात से किया इनकार
स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने कहा कि राम जन्मभूमि के संबंध में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद अयोध्या ही नहीं उसके आसपास के 50 किलोमीटर दायरे की जमीन सोना हो गई है। रामलला के मंदिर के लिए जमीन वर्तमान के बाजार भाव के हिसाब से रजिस्ट्री कराई गई है। जमीन बेचने वाले को ऑनलाइन माध्यम से पैसा दिया गया है। एक-एक चीज का लिखापढ़ी में हिसाब है। जब कोई गड़बड़ी हुई ही नहीं है तो किस बात की सीबीआई जांच हो। बंगाल और महाराष्ट्र में सीबीआई जांच करने जाती है तो उसे केंद्र का तोता कहा जाता है और फिर उसी पर विश्वास भी है। राजनीति करने वालों में यह कैसा दोहरापन है।

सपा, कांग्रेस और 'आप' पर उठाए सवाल
स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने कांग्रेस, सपा और आम आदमी पार्टी(आप)के नेताओं पर भी जमकर निशाना साधा। राहुल गांधी ने सोमवार को ट्वीट किया था कि श्रीराम स्वयं न्याय हैं, सत्य हैं, धर्म हैं- उनके नाम पर धोखा अधर्म है। इसे लेकर स्वामी जितेंद्रानंद ने कहा कि जिसकी मां ने राम के अस्तिव को ही नहीं स्वीकारा और सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दिलवाई थी कि राम काल्पनिक पुरुष हैं। उन लोगों को भी राम नाम में अब धर्म और सत्य दिखाई देने लगा।

सीबीआई जांच की मांग करना समय बर्बाद करना है: स्वामी जितेंद्रानंद
आम आदमी पार्टी के संजय सिंह की सीबीआई और ईडी जांच की मांग पर स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने कहा कि सिनेमा का टिकट ब्लैक करने वाले और उसके दादा अरविंद केजरीवाल ने न जाने कितने नेताओं पर आरोप लगाए और फिर माफी मांगी। ऐसे लोगों के संबंध में कोई बात करना अपना समय बर्बाद करना है। स्वामी जितेंद्रानंद ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण कांग्रेस, सपा और आम आदमी पार्टी पचा नहीं पा रही है। इसलिए यह सब खुराफात करते ही रहेंगे। हम सभी उस दिन का इंतजार कर रहे हैं जब रामलला का भव्य मंदिर पूर्ण आकार ले लेगा।

खबरें और भी हैं...