• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • Got 10 Days Chance To Apply For The Post Of Vice Chancellor For The First Time In BHU Located In Varanasi; Earlier The Deadline Was Up To 21 Days

पिछला साक्षात्कार रद कर दोबारा से जारी हुआ विज्ञापन:BHU में पहली बार कुलपति पद पर आवेदन देने के लिए महज 10 दिन का मौका; 21 दिन तक होती थी समयसीमा

वाराणसी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
BHU में कुलपति पद के लिए दोबारा आए आवेदन में होगी नए उम्मीदवारों की इंट्री। - Dainik Bhaskar
BHU में कुलपति पद के लिए दोबारा आए आवेदन में होगी नए उम्मीदवारों की इंट्री।

काशी हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) में कुलपति पद के लिए दोबारा से विज्ञापन जारी हुआ है। खास बात यह है इसमें केवल 10 दिन का ही समय दिया गया है, जबकि हर बार कुलपति पद के आवेदन के लिए 21 दिन का समय दिया जाता था। इस बार आवेदन की अंतिम तिथि 24 सितंबर ही रखी गई है। दाेबारा से विज्ञापन जारी होने पर BHU के कई पूर्व प्रोफेसरों का कहना है कि नए लोगों को प्रवेश दिलाने के लिए ऐसा किया गया है।

पूर्व के अभ्यर्थी चाहें तो वापस ले सकते हैं अपने नाम

कल देर शाम जारी हुए विज्ञापन में कहा गया है कि इस पद के लिए उच्चस्तर की क्षमता, ईमानदारी, नैतिकता और संस्थागत प्रतिबद्धता वाले उम्मीदवार की उम्मीद की जाती है। वहीं अभी तक शिक्षा मंत्रालय द्वारा गठित सर्च कमेटी ने 13 नामों की सिफारिश की थी। अब दोबारा से आए विज्ञापन में कई नए आवेदनों पर विचार होगा। विज्ञापन में बताया गया है कि जिन्होंने पहले से आवेदन कर रखा है वे फिर से अप्लाई नहीं कर सकेंगे। वहीं जिन्होंने पहले आवेदन दिया था वे चाहे तो अपने नाम वापस ले लें, इसकी भी व्यवस्था की गई है।

BHU की नई वेबसाइट पर आया विज्ञापन

BHU की नई वेबसाइट www.new.bhu.ac.in पर आवेदन करने का पूरा प्रोफार्मा भी अपलोड कर दिया गया है। गौरतलब है कि BHU में अभी कार्यवाहक कुलपति के तौर रेक्टर प्रो. वीके शुक्ल ही कार्यभार संभाले हुए हैं। पिछले स्थाई कुलपति प्रो. राकेश भटनागर का कार्यकाल इस साल 28 मार्च को समाप्त हो गया था। वहीं उनका कार्यकाल खत्म से 4 महीने पहले दिसंबर, 2020 को कुलपति पद के आवेदन के लिए विज्ञापन जारी किया था। आवेदन मिलने के बाद फरवरी माह में गुजरात केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ.. हंसमुख अढ़िया की अध्यक्षता में 3 सदस्यीय सर्च कमेटी का गठन कर आवेदनों की शॉर्टलिस्टिंग की गई। कमेटी के दो अन्य सदस्यों में अंग्रेजी एवं विदेशी भाषा विश्वविद्यालय हैदराबाद के वीसी प्रो. ई. सुरेश कुमार और आईआईएम नागपुर के निदेशक प्रो. भमा आर्य मैत्री शामिल थे। इनके द्वारा अंतिम 13 नामों का साक्षात्कार BHU में ही आयोजित करने का निर्णय लिया गया था। सभी आवेदक कैंपस में पहुंच चुके थे, मगर अंतिम समय साक्षात्कार पर रद कर दी गई।

खबरें और भी हैं...