बनारस की बड़ी खबरें LIVE:वाराणसी में पत्नी को जलाकर मारने का पति दोषी, कोर्ट ने सुनाई उम्रकैद की सजा

वाराणसी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

वाराणसी के विशेष न्यायाधीश (भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम) अशोक कुमार सिंह यादव की कोर्ट ने दहेज में अल्टो कार न मिलने पर पत्नी को जलाकर मारने के आरोपी पति सुरेश मौर्या को दोषी पाया है। अदालत ने सुरेश को आजीवन कारावास और 10 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। इसके साथ ही आरोप सिद्ध न होने पर सास सुमित्रा देवी, जेठ राजेश मौर्या और जेठानी रेखा देवी को बरी कर दिया।

जौनपुर के गौराबादशाहपुर निवासी साहब लाल की बेटी सुमन मौर्या का विवाह फूलपुर थाना असिला गांव निवासी सुरेश मौर्या के साथ 20 मई 2013 को को हुई थी। आरोप है कि दहेज में कार व अन्य सामान की मांग लेकर सुमन को आए दिन पति समेत ससुराल वाले प्रताड़ित करते थे। 10 नवंबर 2016 को लगभग साहब लाल को सूचना मिली कि उसकी लड़की जल गई है और उसे उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

वहां पहुंचने पर पता चला कि वह मंडलीय अस्पताल में भर्ती है। मंडलीय अस्पताल में उपचार के दौरान सुमन की मौत हो गई। अदालत में एडीजीसी ज्योति शंकर उपाध्याय ने अभियोजन पक्ष से, दोषमुक्त जेठ-जेठानी की ओर से अधिवक्ता तनवीर अहमद सिद्दीकी और सास की तरफ से श्रीनाथ त्रिपाठी ने अदालत में पक्ष रखा।

3 बदमाशों ने महिला से 20 हजार रुपए छीने

सारनाथ थाना अंतर्गत घुरहूपुर गांव की गिरिजा देवी घर के समीप स्थित काशी ग्रामीण बैंक से 20 हजार रुपए निकाल कर पैदल ही वापस जा रही थी। गिरिजा अपने घर की गली में पहुंची तो 2 युवक उसे रोक कर बातों में उलझा लिए। बातचीत के दौरान ही दोनों उससे 20 हजार रुपए छीन लिए और बाइक स्टार्ट कर खड़े अपने दोस्त के साथ सिंहपुर की ओर भाग निकले। आशंका जताई गई है कि तीनों युवक बैंक से ही गिरिजा देवी के पीछे कज हुए थे। पुलिस घटनास्थल के समीप लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल कर बदमाशों को चिन्हित करने में जुटी हुई है।

लूट के मुकदमे की जगह दर्ज की गुमशुदगी

जंसा थाना क्षेत्र में रिंग रोड के हरसोस मोड़ पर बाइक से अपने घर जा रहे रिलायंस कंपनी के कर्मचारी को बाइक सवार तीन लुटेरों ने धमका कर उसका बैग छीन लिया। भुक्तभोगी शिवपुर थाना अंतर्गत जैपार गांव निवासी विकास सिंह ने बताया कि बैग में 10 हजार रूपए, एटीएम कार्ड और कुछ कागजात थे। युवक का आरोप है कि जंसा थाने की पुलिस ने लूट का मुकदमा दर्ज करने के बजाय गुमशुदगी दर्ज कर उसे टरका दिया।

बुलेट बेचने का विज्ञापन देकर ठग लिए 65 हजार

सारनाथ थाना अंतर्गत लेढूपुर निवासी मोमोज विक्रेता गोविंद कुमार ने ओएलएक्स पर बुलेट बिक्री का विज्ञापन देखा था। उन्होंने बिक्री का विज्ञापन देने वाले हरियाणा निवासी सागर सामंत से बात की। 65 हजार रुपए में बुलेट का सौदा तय हुआ। 6 दिसंबर को 8 हजार और 7 दिसंबर को 52 हजार रुपए पेटीएम के माध्यम से उन्हींने सागर के खाते में डाल दिया। जब बुलेट उन्हें नहीं मिली तब उन्होंने सागर सामंत को फोन किया। सागर ने कहा कि बुलेट यूपी जा चुकी है। बुलेट लेने के लिए 30 हजार रुपए और देने होंगे। तब गोविंद को लगा कि वह ठगे गए हैं और उन्होंने इसकी शिकायत सारनाथ थाने में की।

काम के दौरान छत से जमीन पर गिरे मजदूर की मौत

चोलापुर थाना अंतर्गत चंदापुर में बुधवार को मकान के छत की शेंटरिंग के काम के दौरान नीचे गिरने से एक मजदूर की मौत हो गई। चंदापुर निवासी रमेश गुप्ता के अनुसार, उनके निर्माणाधीन मकान में शेंटरिंग का काम चल रहा था। जिसमें झारखंड निवासी ठेकेदार मुश्ताक और उसके साथी मजदूर काम कर रहे थे। काम के दौरान झारखंड के गिरिडीह के खसालूडीह का निवासी शहादत अंसारी (50) चक्कर आने की वजह से जमीन पर गिर पड़ा और उसके सिर पर गंभीर चोट लगी। आननफानन उसे चंदापुर नहर स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

खबरें और भी हैं...