• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • In The Matter Of Giving Information Related To Students And Schools To The Ministry Of Education, Varanasi Tops In Uttar Pradesh, Basti At 75th Place

बनारस के लिए अच्छी बात:छात्र-छात्राओं और स्कूलों से संबंधित जानकारी शिक्षा मंत्रालय को देने के मामले में UP में वाराणसी अव्वल, बस्ती 75वें स्थान पर

वाराणसी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कक्षा आठ तक के निजी और सरकारी स्कूलों से संबंधित विवरण केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय को देने के मामले में उत्तर प्रदेश में वाराणसी पहले स्थान पर है। सत्र 2020-21 में वाराणसी के कक्षा आठ तक के 3412 निजी और सरकारी स्कूलों में से 3389 ने यू-डायस (यूनाइटेड डिस्ट्रिक्ट इंफारर्मेशन सिस्टम फॉर एजुकेशन) प्लस ऑनलाइन प्रपत्र में मांगी गई जानकारियां दे दी हैं। इस तरह से जिले के 99.33 प्रतिशत स्कूलों का यू-डायस प्लस प्रपत्र जमा होने के कारण वाराणसी को प्रदेश में पहला स्थान मिला है। इस उपलब्धि पर बुधवार को बीएसए राकेश कुमार सिंह ने अपनी पूरी टीम को शाबाशी दी है।

क्या होता है यू-डायस प्लस प्रपत्र

यू-डायस प्लस प्रपत्र किसी भी विद्यालय की कुंडली होता है। इस प्रपत्र के माध्यम से ऑनलाइन यह पता लगाया जा सकता है कि किसी भी स्कूल में कितने बच्चे हैं। उन बच्चों के अभिभावक कौन हैं और वह क्या करते हैं। बच्चे एपीएल या बीपीएल किस फैमिली से आते हैं। बच्चे स्कूल में कितने घंटे पढ़ते हैं। एक शैक्षणिक सत्र में बच्चों का रिजल्ट कैसा रहा। स्कूल में शिक्षक कितने हैं, उनका क्या नाम है और मोबाइल नंबर क्या है।

विद्यालय में पुस्तकालय, शौचालय, पीने के पानी एमडीएम आदि से संबंधित सुविधाएं हैं या नहीं हैं। दिव्यांग बच्चों के लिए क्या सुविधाएं हैं। विद्यालय को कहां से किस तरह का फंड मिला। विद्यालय को और क्या आवश्यकता है। इस पूरी जानकारी से शिक्षा मंत्रालय का स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग देश भर के स्कूलों का कंप्यूटराइज्ड डेटाबेस तैयार करता है। इसके बाद डेटाबेस का उपयोग स्कूली शिक्षा के क्षेत्र में सुधार के लिए किया जाता है।

यूपी में यह हैं टॉप 10 जिले

वाराणसी (99.33%), मैनपुरी (97.96%), ललितपुर (89.10%), सोनभद्र (86.21%), बुलंदशहर (83.61%), चंदौली (75.34%), सीतापुर (73.37%), बदायूं (72.51%), मथुरा (69.13%) और गौतमबुद्ध नगर (68.76%)

प्रदेश में यह हैं नीचे से फिसड्‌डी 10 जिले

बस्ती (0%), सिद्धार्थ नगर (0.06%), हरदोई (0.18%), कानपुर नगर (0.25%), कानपुर देहात (1.34%), गोंडा (1.49%), प्रयागराज (1.52%), बलिया (1.64%), शाहजहांपुर (1.84%), फतेहपुर (1.84%)

खबरें और भी हैं...