• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • Varanasi Rape Case : Accused Of Rape And Attempt To Rape Were Found Guilty, One Was Imprisoned For 20 Years, The Other Was Sentenced To 5 Years Rigorous Imprisonment

नाबालिग से रेप करने वाले को 20 साल की सजा:आरोपी ने वाराणसी से गोवा ले जाकर किया था रेप, दूसरे मामले में दोषी को पांच साल की कैद

वाराणसी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोर्ट के लोगो का प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
कोर्ट के लोगो का प्रतीकात्मक फोटो

वाराणसी में रेप और रेप के प्रयास के 2 अलग-अलग मामलों में कोर्ट ने आरोपियों को शनिवार को सजा सुनाई। रेप के 3 साल पुराने मामले में आरोपी को 20 साल की कैद और जुर्माने से दंडित किया गया है। वहीं, रेप के प्रयास के 6 साल पुराने मामले में आरोपी को दोषी पाते हुए 5 साल के सश्रम कारावास और जुर्माने की सजा सुनाई गई है।

अभियोजन पक्ष के अनुसार वादी ने मंडुवाडीह थाने में वर्ष 2018 में मुकदमा दर्ज कराया था। आरोप था कि उसके घर पर उसके साढ़ू की नाबालिग बेटी 28 सितंबर 2018 को आई थी। वह 9 अक्टूबर की रात 11 बजे घर से गायब हो गई थी। बाद में पुलिस ने लड़की को गोवा से खोज निकाला। पुलिस ने विवेचना में पाया कि पीड़िता को आरोपी ट्रेन से गोआ ले गया था। गोवा में उसे एक कमरे में रखा और शादी की बात कर जबरन शारीरिक संबंध बनाया।

जब मौसा, मां और भाई पुलिस के साथ पहुंचे तो आरोपी लड़की को वहीं छोड़ कर भाग गया। पुलिस ने विवेचना के बाद आरोपी के खिलाफ कोर्ट में आरोप पत्र दाखिल किया। अभियोजन की ओर से कोर्ट ने 8 गवाहों का बयान दर्ज कराया। दोनों पक्ष को सुनने और साक्ष्य के अवलोकन के बाद आरोपी को दोषी पाते हुए विशेष न्यायाधीश पॉक्सो एक्ट राजीव कुमार की अदालत ने आरोपी पंकज केशरी को दोषी पाते हुए 20 साल की सजा और 17 हजार जुर्माने से दंडित किया।

शोर मचाने पर भाग निकला था आरोपी

विशेष लोक अभियोजक मधुकर उपाध्याय ने बताया कि 12 वर्षीय लड़की अपने मामा की शादी में शामिल होने केलिए बड़ागांव थाना क्षेत्र स्थित उनके घर गई थी। 4 जुलाई 2015 की रात में वह मड़ई में सोयी थी। उसी दौरान अभियुक्त अरविंद हरिजन ने भोर में उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास किया। लड़की के शोर मचाने पर अभियुक्त भाग निकला। विशेष न्यायाधीश पॉक्सो एक्ट राजेंद्र प्रसाद त्रिपाठी की अदालत ने पीड़िता के बयान और साक्ष्य का अवलोकन करने के बाद चोलापुर थाना के गन्नारी गांव निवासी अभियुक्त अरविंद हरिजन को 5 साल के सश्रम कारावास और 7 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई। अदालत ने अभियुक्त द्वारा जुर्माना देने पर 6 हजार रुपए पीड़िता को बतौर क्षतिपूर्ति देने का आदेश दिया है।

खबरें और भी हैं...