ड्यूटी के दौरान घायल हेड कांस्टेबल की मौत हुई:वाराणसी में तेज रफ्तार ट्रक ने मारी थी टक्कर, 9 दिन जूझते रहे जिंदगी और मौत के बीच

वाराणसी21 घंटे पहले
  • कॉपी लिंक
हेड कांस्टेबल जय बहादुर यादव। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
हेड कांस्टेबल जय बहादुर यादव। (फाइल फोटो)

वाराणसी में तेज रफ्तार ट्रक की टक्कर से गंभीर रूप से घायल बड़ागांव थाने के हेड कांस्टेबल जय बहादुर यादव (39) की उपचार के दौरान शुक्रवार को मौत हो गई। सूचना पाकर शिवपुर थाने की पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। पोस्टमार्टम के बाद जय बहादुर यादव का पार्थिव शरीर पुलिस लाइन ले जाया जाएगा। वहां शोक सलामी और श्रद्धांजलि देने के बाद अंत्येष्टि की जाएगी।

साथी कांस्टेबल की पहले ही हो गई मौत

बीती 17 नवंबर की रात बड़ागांव थाने की हरहुआ चौकी की पैंथर ड्यूटी में तैनात हेड कांस्टेबल जय बहादुर यादव और कांस्टेबल अजय भान गिरी सरकारी बाइक से गश्त पर निकले थे। गणेशपुर तरना में पीछे से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक ने दोनों की बाइक में जोरदार टक्कर मार दी थी। हादसे में आजमगढ़ जिले के रानी की सराय थाना के रुदरी गांव निवासी जय बहादुर यादव और मऊ जिले के सरायलखंसी थाना के बकवल गांव निवासी अजय भान गिरी गंभीर रूप से घायल हो गए थे। दोनों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। बीती 21 नवंबर की सुबह उपचार के दोरान अजय भान गिरी की मौत हो गई थी। वहीं, लगभग 9 दिन तक जिंदगी और मौत के बीच जूझने के बाद जय बहादुर ने भी दम तोड़ दिया।

बड़ागांव थाने के पुलिसकर्मियों में शोक की लहर

एक हफ्ते के भीतर बड़ागांव थाने के एक कांस्टेबल और एक हेड कांस्टेबल की असमय ही मौत हो गई। इसके चलते बड़ागांव थाने के पुलिसकर्मियों में शोक की लहर है। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अमित वर्मा ने बताया कि जिस ट्रक ने दोनों पुलिसकर्मियों को टक्कर मारी थी, सीसीटीवी कैमरों की फुटेज की मदद से उसे चिह्नित कर लिया गया है। ट्रक के साथ आरोपी चालक जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होगा। हादसे में जान गंवाने वाले दोनों पुलिसकर्मियों के परिजनों के साथ पूरे महकमे की संवेदना है। सरकारी नियमानुसार पीड़ित परिजनों की पूरी मदद की जाएगी।