पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वाराणसी में भाजपा के ब्लाक प्रमुख प्रत्याशियोें को लेकर कलह:सपा छोड़ कर एक दिन पहले पार्टी ज्वाइन करने वाले की पत्नी को बनाया प्रत्याशी, बाहुबली विनीत का मिर्जापुर के बाद बनारस में भी दबदबा

वाराणसी25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वाराणसी में ब्लाक प्रमुख चुनाव के लिए भाजपा के प्रत्याशी। - Dainik Bhaskar
वाराणसी में ब्लाक प्रमुख चुनाव के लिए भाजपा के प्रत्याशी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में ब्लाक प्रमुख चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने बुधवार शाम प्रत्याशियों की घोषणा कर दी। प्रत्याशियाें का नाम सार्वजनिक होते ही पार्टी में कलह भी शुरू हो गई है। फिलहाल कोई खुल कर सामने तो नहीं आया लेकिन दबी जुबान पार्टी नेता नाराजगी जाहिर कर रहे हैं।

भाजपा नेताओं का कहना है कि एक दिन पहले सपा छोड़ कर पार्टी में शामिल हुए प्रवेश पटेल की पत्नी को काशी विद्यापीठ ब्लाक का प्रत्याशी बना दिया गया। मिर्जापुर में बाहुबली विनीत सिंह ने अपने जिस करीबी को जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव जिताया, उन्हीं की भाभी को चोलापुर ब्लाक का प्रत्याशी बना दिया गया। इसी तरह से हरहुआ ब्लाक के प्रत्याशी की भी जिले के एक कुख्यात से नजदीकी जगजाहिर है।
किस ब्लाक से कौन है भाजपा का प्रमुख पद का प्रत्याशी

भाजपा जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा के अनुसार काशी विद्यापीठ ब्लाक के प्रमुख पद की प्रत्याशी रेनू पटेल हैं। चिरईगांव से अभिषेक सिंह चंचल और चोलापुर से लक्ष्मीना कनौजिया ब्लाक प्रमुख पद की प्रत्याशी हैं। पिंडरा से धर्मेंद्र कुमार विश्वकर्मा और सेवापुरी से रीना कुमारी ब्लाक प्रमुख पद की प्रत्याशी हैं।

वहीं, हरहुआ ब्लाक से प्रमुख पद के प्रत्याशी विनोद कुमार उपाध्याय बबलू हैं। भाजपा जिलाध्यक्ष ने बताया कि आराजी लाइन और बड़ागांव ब्लाक के प्रमुख पद के लिए अपना दल (एस) के प्रत्याशी चुनाव लड़ेंगे।

जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव की तरह ही दर्ज करेंगे जीत

ब्लाक प्रमुख पद के प्रत्याशियों को लेकर भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं की नाराजगी के संबंध में पूछने पर जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। प्रत्याशियों का चयन आपसी सहमति से किया गया है। सब साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगेे। जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव की तरह ही आठों ब्लाक के प्रमुख पद के चुनाव में भी भाजपा और अपना दल (एस) गठबंधन जीत दर्ज करेगा। कोई अन्य दल हमारे टक्कर में नहीं है। जिले की जनता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में विकास चाहती है। इसी वजह से जनता भारतीय जनता पार्टी की रीति और नीति पर विश्वास करती है। 10 जुलाई को चुनाव परिणाम आएगा तो आठों ब्लाकों के प्रमुख पद के विजेता भाजपा प्रत्याशी ही होंगे।

कितना खर्च हुआ चुनाव में जांच करा लें

जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी कौशल राज शर्मा ने बुधवार को बताया कि राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन-2021 के निर्वाचन व्यय लेखे की जांच की जानी है। व्यय लेखा की जांच के लिए जिला स्तरीय कमेटी और तहसील सदर, तहसील राजातालाब एवं तहसील पिंडरा हेतु तहसील स्तरीय कमेटी का गठन किया गया है।

राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देश के अनुरूप जनपद के क्षेत्र पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशी एवं जिला पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशी के निर्वाचन व्यय लेखे का परीक्षण करने के लिए जिला पंचायत कार्यालय के सभागार में 13, 14, 15 एवं 16 जुलाई की तिथि निर्धारित की गई है। जनपद के समस्त क्षेत्र पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशी और जिला पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशी निर्धारित निर्वाचन व्यय लेखा रजिस्टर की जांच संबंधित लेखा टीम से कराना सुनिश्चित करें।

खबरें और भी हैं...