पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वाराणसी में खुला महिला थाना:वाराणसी में ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं के लिए बड़ागांव में बनाया गया महिला थाना, गुलशिफा बनी पहली थानेदार

वाराणसीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बड़ागांव स्थित पुलिस परामर्श केंद्र चौकी महिला थानें में बदली गई। - Dainik Bhaskar
बड़ागांव स्थित पुलिस परामर्श केंद्र चौकी महिला थानें में बदली गई।

वाराणसी में पुलिस कमिश्नरेट सिस्टम लागू होने के बाद शहर और ग्रामीण क्षेत्र की पुलिस को अलग कर सुविधाओं और संसाधनों के विकास का काम निरंतर जारी है। इसी क्रम में शुक्रवार को वाराणसी के ग्रामीण क्षेत्र के लिए बड़ागांव स्थित पुलिस परामर्श केंद्र चौकी को महिला थाना के रूप में परिवर्तित कर दिया गया। ग्रामीण इलाके के इस नए महिला थाना की पहली थानाध्यक्ष के तौर पर सब इंस्पेक्टर गुलशिफा को तैनात किया गया है।

महिला थाने की थानाध्यक्ष का सीयूजी मोबाइल नंबर 7839869232 है।
महिला थाने की थानाध्यक्ष का सीयूजी मोबाइल नंबर 7839869232 है।

ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को होगी सहूलियत

वाराणसी के एसपी ग्रामीण अमित वर्मा ने बताया कि वैसे तो प्रत्येक थाने पर अलग से महिला हेल्प डेस्क बनी ही हुई है। इसके बावजूद ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं सीधे महिला थाने में ही अपनी फरियाद सुनाना चाहती हैं तो वह बड़ागांव आ सकती है। महिला थाने में थानाध्यक्ष के अलावा 20 अन्य पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। महिला थाने में कंप्यूटर और इंटरनेट की व्यवस्था कर इसे सीसीटीएनएस से भी जोड़ दिया गया है। महिलाएं यहां अब शिकायत सुनाने के साथ ही एफआईआर भी दर्ज करा सकती हैं। एसपी ग्रामीण ने बताया कि महिला थाने की स्थापना के लिए बीचे मार्च महीने में ही प्रदेश सरकार के गृह विभाग से अनुमति मांगी गई थी। अनुमति मिलते ही कार्ययोजना को मूर्त रूप दे दिया गया। आगामी दिनों में जब पुलिस अधीक्षक ग्रामीण का कार्यालय और पुलिस लाइन बनेगी तो महिला थाना का अलग भवन भी बनेगा।

ग्रामीण इलाके में थानों की संख्या बढ़कर हुई 12

महिला थाना खुलने के साथ ही वाराणसी के ग्रामीण इलाके में अब थानों की संख्या 12 हो गई है। इससे पहले ग्रामीण इलाके में चौबेपुर, फूलपुर, सिंधोरा, बड़ागांव, चोलापुर, कपसेठी, जंसा, लोहता, रोहनिया, राजातालाब और मिर्जामुराद थाना था। राजातालाब थाना भी हाल ही में खोला गया है। एसपी ग्रामीण अमित वर्मा ने बताया कि बढ़ती हुई आबादी के हिसाब से और पुलिस की विजिबिलिटी बढ़ाने के लिए नए थाने बनाए जा रहे हैं। पुलिस की विजिबिलिटी बढ़ेगी तो अपराध में कमी आएगी और आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों में कानून का भय होगा।

बाबतपुर रेलवे स्टेशन पर बनेगी नई आरपीएफ चौकी

वाराणसी के बाबतपुर रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ की नई चौकी बनाई जाएगी। यह निर्णय रेलवे की संपत्तियों की चोरी पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से लिया गया है। इस चौकी पर तैनात आरपीएफ के जवान खालिसपुर से लेकर शिवपुर तक रेल संपत्ति की निगरानी करेंगे। अधिकारियों ने बताया कि कोई भी घटना होने पर वाराणसी स्थित कैंट रेलवे स्टेशन से बाबतपुर रेलवे स्टेशन पहुंचने में 45 मिनट से ज्यादा समय लग जाता है। इसलिए रेल संपत्ति की सुरक्षा के उद्देश्य से यह निर्णय लिया गया है। चौकी में आरपीएफ का एक दरोगा सहित सात जवान तैनात किए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...