पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • In Varanasi, The Executive Engineer Of The Electricity Department Said, That Money Belongs To SE Sir, The Charge Sheet Was Handed Over After Starting The Investigation.

पैसे के लेनदेन की बात का वीडियो वायरल:वाराणसी में बिजली विभाग के एक्जक्यूटिव इंजीनियर ने कहा, वह पैसा SE साहब का है, जांच शुरू कर थमाया गया आरोप पत्र

वाराणसी10 दिन पहले
राजेंद्र प्रसाद, अधिशासी अभियंता, बिजली विभाग।

बिजली विभाग में भ्रष्टाचार की जड़ें बहुत गहरी हैं। इससे जुड़ा ताजातरीन मामला वाराणसी में सामने आया है। वाराणसी के विद्युत वितरण खंड द्वितीय के अधिशासी अभियंता राजेंद्र प्रसाद का 20 सेकेंड का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ है। वीडियो में वह किसी से बिजली विभाग के टेंडर में पैसे के लेनदेन के संबंध में बात कर रहे हैं। वायरल वीडियो के आधार पर अधिशासी अभियंता को पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के प्रबंधक निदेशक ने डिस्काम मुख्यालय से संबद्ध कर उन्हें आरोप पत्र थमा दिया है। इसके साथ ही पूरे प्रकरण की जांच के लिए टीम गठित की है।

साहब हमने पैसा दिया है आपको

वीडियो में एक व्यक्ति अधिशासी अभियंता राजेंद्र प्रसाद से उनके कार्यालय में बात करता है। वह कहता है कि टेंडर के लिए जो पैसा दिया हुआ था साहब... इसी बीच राजेंद्र प्रसाद उसकी बात काटते हुए कहते हैं कि देखो उस पैसे से हमें कोई मतलब नहीं है। वह पैसा हमने नहीं लिया है। वह पैसा SE साहब (अधीक्षण अभियंता) का है, तुम उनसे बात करो। SE साहब ने उसके बदले वर्क ऑर्डर दिया है आपको...।

इस पर सामने खड़ा शख्स कहता है कि साहब हमने आपको दिया है। अधिशासी अभियंता कहते हैं कि वह पैसा SE साहब के पास गया है। यह सुन कर सामने खड़ा शख्स कहता है कि पैसा गया तो वह तो आप जान रहे हैं ना...। उसकी बात काट कर अधिशासी अभियंता नसीहत देते हैं कि देखो किसी की मजबूरी का फायदा मत उठाओ, नहीं तो जिंदगी में कभी सफल नहीं हो पाओगे। हालांकि वीडियो की रिकॉर्डिंग किसने की और अधिशासी अभियंता से कौन बात कर रहा था, अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है।

15 दिन में टीम जांच करके दे रिपोर्ट

पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक विद्याभूषण ने कहा कि प्रथम दृष्टया यह भ्रष्टाचार से जुड़ा हुआ गंभीर मामला प्रतीत हो रहा है। वीडियो क्लिप में भ्रष्टाचार करते हुए प्रतीत हो रहे अधिशासी अभियंता राजेंद्र प्रसाद को डिस्कॉम मुख्यालय से संबद्ध कर उन्हें आरोप पत्र थमा दिया गया है। वीडियो में बातचीत के दौरान एक अधीक्षण अभियंता की संलिप्तता का भी अधिशासी अभियंता ने जिक्र किया है। जांच में नाम की पुष्टि होने पर संबंधित अधीक्षण अभियंता के विरुद्ध भी विभागीय कार्रवाई की जाएगी। जांच टीम को निर्देश दिया गया है कि वे 15 दिन के अंदर अपनी रिपोर्ट डिस्कॉम मुख्यालय को प्रस्तुत करें।

खबरें और भी हैं...