जाको राखे साइयां मार सके ना कोय:वाराणसी में जान देने की नीयत से युवती कूदी थी रेलवे ट्रैक पर, ट्रेन गुजर गई तो उठ खड़ी हुई

वाराणसी7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
युवती को ग्रामीणों और पुलिसकर्मियों ने समझाबुझाकर परिजनों के साथ घर भेज दिया। - Dainik Bhaskar
युवती को ग्रामीणों और पुलिसकर्मियों ने समझाबुझाकर परिजनों के साथ घर भेज दिया।

जाको राखे साइयां मार सके ना कोय...। संत कबीरदास का यह दोहा शुक्रवार को वाराणसी के सेवापुरी स्टेशन के पूर्वी केबिन के समीप खिल्लूपुर गांव में लोगों ने चरितार्थ होते देखा। जान देने की नीयत से रेलवे ट्रैक पर कूदी युवती के ऊपर से ट्रेन धड़धड़ाते हुए गुजर गई और वह जिंदा बच गई। ग्रामीणों ने ट्रेन के गुजरने के बाद युवती को समझाया और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने युवती के परिजनों को बुलाकर उसे उन्हें सौंप दिया।

घर में होने वाले विवाद से थी परेशान

कपसेठी थाना अंतर्गत नेवढ़िया निवासी गोवर्धन प्रजापति की बेटी पार्वती कुपोषण की शिकार है। परिवार में आए दिन होने वाले विवाद से त्रस्त होकर शुक्रवार की शाम वह खिल्लूपुर गांव पहुंची। वाराणसी से झांसी जा रही बुंदेलखंड के एक्सप्रेस को आते देख वह रेलवे ट्रैक पर छलांग लगा दी। यह देख आसपास मौजूद ग्रामीणों की चीख निकल गई। लेकिन, हैरत में लोग तब पड़ गए जब ट्रेन गुजरने के बाद युवती रेलवे ट्रैक पर खड़ी हो गई।

पुलिस ने परिजनों को चेतावनी देकर भेजा

ग्रामीणों ने बताया कि युवती का शरीर रेलवे ट्रैक के बीचोंबीच था, शायद इसी वजह से वह अनहोनी का शिकार नहीं हुई और बाल-बाल बच गई। उधर, ट्रेन के चालक ने घटना की जानकारी सेवापुरी स्टेशन मास्टर को दी। ग्रामीणों की सूचना पर डायल 112 की पुलिस आ गई। पुलिसकर्मियों ने युवती को समझाया और उसके परिजनों के आने पर उसकी सही से देखरेख करने के साथ ही विवाद न करने की चेतावनी दी।

खबरें और भी हैं...