सनबीम रेप कांड पर प्रशासन की शिथिलता से चिंतित पैरेंट्स:वाराणसी में शिक्षा विभाग की जांच कमेटी ने अब तक नहीं की रसूखदारों से पूछताछ

वाराणसी7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

वाराणसी में लहरतारा स्थित सनबीम स्कूल में रेप कांड की जांच को लेकर शासन-प्रशासन अब शिथिल पड़ता जा रहा है। रसूखदारों को एक दिन हिरासत में लेकर पूछताछ की गई, उसके बाद फिर से मामला ठंडा पड़ गया है। यहां तक कि शिक्षा विभाग ने आनन-फानन में सनबीम लहरतारा की फाइल भी तलब कर ली थी, लेकिन माहौल बनाकर एक जघन्य अपराध का अब माखौल उड़ने लगा है। 4 दिन पहले वाराणसी के बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ. राकेश कुमार सिंह ने बताया था कि सनबीम ने CBSE और बेसिक शिक्षा विभाग दोनों से मान्यता ले रखी है। इसलिए उनसे पेपर और डॉक्यूमेंट मंगाकर वैरिफिकेशन किया जाएगा। कहीं कोई गलती पाई जाएगी तो मान्यता भी रद्द की जा सकती है। स्कूल की मान्यता को जांच परख करने के लिए एक कमेटी भी गठित की थी। मगर, 3 सदस्यों की कमेटी ने अभी तक जांच भी नहीं शुरू किया है। वहीं वाराणसी पुलिस भी स्कूल मैनेजमेंट को गिरफ्तार करने के बाद शांत सी हो गई है।

पुलिस बोली, विवेचना जारी

हालांकि, वाराणसी के DCP वरुणा जोन विक्रांत वीर अभी भी यही कह रहे हैं कि विवेचना चल की जा रही है। जो भी तथ्य सामने आएंगे उनके आधार कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा वाराणसी के सभी स्कूलों का दौरा कर पुलिस द्वारा CCTV और सुरक्षा व्यवस्था की भी हकीकत जाननी थी। अभी तक कहीं कोई जांच हलचल नहीं है। अपर पुलिस आयुक्त (अपराध और मुख्यालय) सुभाष चंद्र दुबे ने 4 दिन पहले घोषणा की थी कि 3 दिन बाद हर स्कूलों का निरीक्षण किया जाएगा। जहां भी CCTV कैमरे नहीं मिलेंगे, उन पर कार्रवाई की जाएगी। सभी स्कूल मैनेजर और प्रिंसिपल अपने स्कूल में यह व्यवस्था करें। साथ ही स्कूल के अंदर गर्ल्स और ब्वायज टायलेट हर फ्लोर पर होना चाहिए। मगर, अभी तक किसी स्कूल कार्रवाई की बात सामने नहीं आई है।

परिजनों में बढ़ रहा गुस्सा
इधर, सनबीम पर अभी तक कार्रवाई न करने को लेकर परिजनों में गुस्सा बढ़ता ही जा रहा है। शासन के ज्यादातर अधिकारी इस समय प्रधानमंत्री के वाराणसी विजिट पर फोकस हैं। इसलिए अभी इस मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है। वहीं, रेप का अभियुक्त स्वीपर अजय कुमार उर्फ सिंकू चैन से जेल की हवा खा रहा है और वाराणसी के अभिभावकों को इंतजार है कि उसे तत्काल कठोर दंड देकर समाज में बेहतर संदेश दिया जाए।

26 नवंबर को रेप

क्लास- 3 में पढ़ने वाली 9 साल की छात्रा के साथ 26 नवंबर को सनबीम स्कूल के टॉयलेट में स्वीपर ने ही रेप किया था। स्वीपर अजय कुमार उर्फ सिंकू ने रेप के बाद धमकाया कि अगर किसी को बताओगी तो वह उसे बहुत मारेगा। सहमी हुई बच्ची स्कूल से जब घर पहुंची तो मां को आपबीती सुनाई। रेप के बाद आरोपी गिरफ्तार हुआ, मगर 4 दिन बाद स्कूल मैनेजर की गिरफ्तारी हुई।

खबरें और भी हैं...