• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • Inauguration Of Vishwanath Dham, BJP Will Give Edge To Hindutva At 27 Thousand Places In UP, Campaigning For The Liberation Of Ayodhya And Banaras

BJP फिर UP में हिंदुत्व की राह पर:अयोध्या-काशी की मुक्ति का होगा प्रचार, 8 लाख घरों में प्रसाद बांटने के बहाने पहुंचेगी पार्टी

वाराणसी10 महीने पहलेलेखक: पुष्पेंद्र कुमार त्रिपाठी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आज अपने ड्रीम प्रोजेक्ट श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण करेंगे। इसके साथ ही यूपी के आगामी विधानसभा चुनाव के प्रचार अभियान को अब भारतीय जनता पार्टी (BJP) हिंदुत्व के सहारे धार देगी। इसके लिए BJP की ओर से खास तैयारियां की गईं हैं। विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के लाइव प्रसारण की व्यवस्था प्रदेश में 27,700 जगह BJP के नेताओं की अगुवाई में की गई है। साथ ही, इसी बहाने प्रदेश भर में अयोध्या और काशी की मुक्ति के BJP के नारे का उसके नेता प्रचार-प्रसार करेंगे।

गौरतलब है कि 2017 में पीएम मोदी के जनसंपर्क अभियान की बदौलत BJP काशी क्षेत्र के 16 जिलों की 71 विधानसभा सीट में 55 पर जीत हासिल की थी। अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण की शुरुआत और काशी में विश्वनाथ धाम बनने के बाद BJP के नेताओं का कहना है कि इस बार वे प्रधानमंत्री के नेतृत्व में 60 से ज्यादा सीट काशी क्षेत्र में जीतेंगे। इसी तरह की सफलता उन्हें अवध,पश्चिमी उत्तर प्रदेश और बुंदेलखंड में भी मिलने जा रही है।

श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर में स्थापित शिवलिंग
श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर में स्थापित शिवलिंग

8 लाख परिवारों से प्रसाद के बहाने संवाद
श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण होने के साथ ही बनारस में BJP के 7500 स्वयंसेवकों की टोली 8 लाख घरों में प्रसाद बांटेगी। इन टोलियों को यह जिम्मेदारी भी मिली है कि वह प्रसाद लेने वाले प्रत्येक परिवार से संवाद कर उन्हें काशी विश्वनाथ धाम के वैभव की गाथा भी बताएंगे। इसे लेकर भाजपा के राष्ट्रीय स्तर के संगठन के एक पदाधिकारी (जो काशी में मौजूद हैं) का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दृढ़ संकल्प की बदौलत ही तो इतना भव्य विश्वनाथ धाम बना है। ऐसे में भला इसके बारे में लोगों को बताया क्यों न जाए?

वह कहते हैं, 'अन्य राजनीतिक दलों को चुनौती देने के लिए विकास हमारा मुख्य आधार है। हिंदुत्व और राष्ट्रवाद के सहारे तो हम देश में पुनर्जागरण का काम एक लंबे अरसे से कर रहे हैं और आगे भी करते ही रहेंगे। अन्य राजनीतिक दलों की तरह हम तुष्टीकरण की राजनीति तो नहीं कर रहे हैं'।

श्रीकाशी विश्वनाथ धाम स्थित बाबा विश्वनाथ का मंदिर।
श्रीकाशी विश्वनाथ धाम स्थित बाबा विश्वनाथ का मंदिर।

BJP के श्रेय लेने में बुराई क्या है?
विश्वनाथ धाम के बहाने यूपी के चुनाव से पहले हिंदुत्व को धार देने के सवाल पर बीएचयू के सामाजिक विज्ञान संकाय के डीन प्रोफेसर कौशल किशोर मिश्रा से दैनिक भास्कर ने बात की। प्रो. मिश्रा ने कहा कि आप लोग यह समझ लें कि हिंदुत्व एक जीवन दर्शन है। इसकी व्याख्या अब तक गलत तरीके से की गई है। हिंदुत्व को समझ कर जीने वाले जीवन भर सुख और शांति से रहते हैं।

'बाकी, यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संकल्प और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का सतत प्रयास है कि आज हमारे सामने भव्य काशी विश्वनाथ धाम है। कोई कुछ भी कह ले, लेकिन क्या किसी ने ऐसा सोचा था कि काशी विश्वनाथ का इतना मुक्त दरबार होगा। ऐसे में BJP यदि इसके बारे में जनता को बताती है और श्रेय लेती है तो इसमें बुराई क्या है? जो काम करेगा वह तो उसका बखान करेगा ही'।

रात में दमकता श्रीकाशी विश्वनाथ धाम।
रात में दमकता श्रीकाशी विश्वनाथ धाम।

हिंदुत्व के झूठे नारे से रोटी-रोजगार नहीं मिलता
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री अजय राय ने कहा कि मोदी और BJP नेताओं के लिए हर चीज एक इवेंट है- 'इन्हें हर जगह प्रचार-प्रसार चाहिए। यह लोग किसी को भी अपने प्रचार-प्रसार का माध्यम बना सकते हैं। बाकी, हम काशीवासियों का तो बाबा विश्वनाथ से अटूट नाता है। हम उनके हैं और वह हमारे आराध्य हैं। जनता जान गई है कि इनके हिंदुत्व के झूठे नारे से रोटी और रोजगार नहीं मिलने वाला है। इस बार का उत्तर प्रदेश का चुनाव बीजेपी के लिए एक बड़ी सीख साबित होने वाला है'।

रविवार को वाराणसी आए भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि भाजपा सरकार ने पिछले साढ़े चार साल से ज्यादा समय में काम किया होता तो अब मंदिर-मस्जिद की बात न करनी पड़ती। भाजपा के लोग बहुजन समाज के बारे में नहीं सोचते हैं।

खबरें और भी हैं...