पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अपनी काशी आएंगे प्रधानमंत्री:15 जुलाई को PM मोदी 1582 करोड़ की परियोजनाओं की वाराणसी को देंगे सौगात, तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे CS और DGP

वाराणसी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वर्ष 2021 में पहली बार 15 जुलाई को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी आ रहे हैं। इस दौरे में प्रधानमंत्री 1582.93 करोड़ रुपये के विकास कार्यों की सौगात देंगे। इसमें से 744.02 करोड़ रुपये की लागत की 78 परियोजनाओं का वह लोकार्पण करेंगे। इसके साथ ही 838.91 करोड़ रुपये की लागत की 206 परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे। प्रधानमंत्री के आगमन के मद्देनजर सुरक्षा और प्रशासनिक तैयारियों का जायजा लेने के लिए रविवार को चीफ सेकेट्री राजेंद्र कुमार तिवारी और डीजीपी मुकुल गोयल वाराणसी आए हैं। प्रदेश के दोनों आला अधिकारी प्रधानमंत्री के कार्यक्रम स्थलों का निरीक्षण कर सुरक्षा व्यवस्था और रूट प्लान की रूपरेखा खींचेंगे।

रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर का निरीक्षण करने पहुंचे चीफ सेकेट्री और डीजीपी।
रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर का निरीक्षण करने पहुंचे चीफ सेकेट्री और डीजीपी।

इन प्रमुख परियोजनाओं का PM मोदी करेंगे लोकार्पण

  • 186 करोड़ की लागत से अंतरराष्ट्रीय सहयोग एवं सम्मेलन केंद्र रुद्राक्ष
  • 62.04 करोड़ की लागत से पंचक्रोशी परिक्रमा के 33.91 किलोमीटर मार्ग का चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण
  • 61 करोड़ की लागत से विश्व बैंक सहायतित नीर निर्मल परियोजना बैच-2 अंतर्गत 11 पेयजल परियोजना
  • 53.43 करोड़ की लागत से 18 ग्रामीण संपर्क मार्ग की मरम्मत, चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण
  • 50.17 करोड़ की लागत से वाराणसी-गाजीपुर मार्ग पर 3 लेन उपरिगामी सेतु
  • 46.71 करोड़ की लागत से बीएचयू में शिक्षकों के लिए 80 रेजिडेंसियल फ्लैट का निर्माण
  • 45.50 करोड़ की लागत बीएचयू में 100 बेड का एमसीएच विंग
  • 29.65 करोड़ की लागत से बीएचयू में रीजनल इंस्टीट्यूट क्षेत्रीय नेत्र रोग संस्थान

इन प्रमुख परियोजनाओं का PM मोदी करेंगे शिलान्यास

  • 428.54 करोड़ की लागत से शिवपुर, अजगरा, पिंडरा, सेवापुरी और रोहनिया विधानसभा क्षेत्र में हर घर नल से जल योजना का काम
  • 111.26 करोड़ की लागत से 47 ग्रामीण संपर्क मार्ग की मरम्मत का काम
  • 108.53 करोड़ की लागत से सिस वरुणा क्षेत्र में वाठर सप्लाई स्कीम प्रायरिटी-1 के सुदृढ़ीकरण का काम
  • 40.10 करोड़ की लागत से रोहनिया क्षेत्र में सेंटर फॉर स्किलिंग एंड टेक्निकल सपोर्ट का निर्माण
  • 26.70 करोड़ की लागत से पुलिस लाइन में ट्रांजिट हॉस्टल और ईओडब्ल्यू के कार्यालय भवन का काम
  • 19.49 करोड़ की लागत से ट्रांस वरुणा क्षेत्र में वाटर सप्लाई परियोजनाओं पर स्काडा आटोमेशन
  • 17.24 करोड़ की लागत से वाटर ट्रीटमेंट प्लांट भेलूपुर में 2.0 मेगावाट क्षमता का सोलर पॉवर प्लांट
  • 15.78 करोड़ की लागत से करखियांव औद्योगिक क्षेत्र में मैंगो एवं वेजिटेबल इंटीग्रेटेड पैक हाउस का निर्माण

शहर के प्रबुद्ध लोगों से संवाद के लिए जगह पर चल रहा मंथन

साल 2014 से प्रधानमंत्री अपने संसदीय क्षेत्र जब भी आए, उन्होंने जनसभा जरूर की। आखिरी बार वह 30 नवंबर 2020 को आए थे तब भी वह मिर्जामुराद क्षेत्र में अपने संसदीय क्षेत्र के लोगों से मुखातिब हुए थे। हालांकि इस बार कोरोना वायरस के संक्रमण की संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर वह जनसभा नहीं करेंगे। ऐसे में वह शहर के चुनिंदा प्रबुद्ध लोगों से संवाद कर सकते हैं।

अधिकारियों ने बताया कि रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर और बीएचयू के स्वतंत्रता भवन में 2 गज की दूरी और कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए प्रधानमंत्री शहर के प्रबुद्ध लोगों से संवाद कर सकते हैं। दोनों ही स्थान के बारे में प्रधानमंत्री कार्यालय को विवरण भेज दिया गया है। प्रधानमंत्री कार्यालय से हरी झंडी मिलते ही आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली जाएगी।

खबरें और भी हैं...