पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • On The Arrival Of PM Modi, The President Of Hindu Sena Distributed Pamphlets In Varanasi, The Police Did Not Notice, Asked The Chief Minister How Many Cow Slaughter Centers Were Closed

योगी जी मेरी आवाज बंद नहीं करा पाओगे:PM मोदी के आने से पहले हिंदू सेना अध्यक्ष ने वाराणसी में बंटवाए पर्चे, पुलिस को भनक नहीं लगी, मुख्यमंत्री से पूछा गोकशी के कितने अड्‌डे बंद हुए

वाराणसी19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
विश्व हिंदू सेना के अध्यक्ष अरुण पाठक की फेसबुक वॉल का स्क्रीनशॉट। - Dainik Bhaskar
विश्व हिंदू सेना के अध्यक्ष अरुण पाठक की फेसबुक वॉल का स्क्रीनशॉट।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के विवादित पोस्टर चिपकाने के बाद विश्व हिेंदू सेना के अध्यक्ष अरुण पाठक ने गुरुवार की सुबह वाराणसी में अखबार के साथ घरों में पर्चे बंटवाए। पर्चे में पाठक ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री पर हिंदुत्व, राम मंदिर में घोटाले का आरोप सहित अन्य आरोप लगाए हैं। अपने फेसबुक वॉल पर अरुण ने इसका वीडियो भी शेयर किया है। लिखा है कि योगी जो आप कितनी भी कोशिश कर लो मेरी आवाज नहीं दबाओगे। इस सारे घटनाक्रम के बीच ताजुब की बात यह रही कि चंद दिनों पहले ही अरुण के खिलाफ 3 थानों में 3 मुकदमे दर्ज किए गए हैं। अरुण की तलाश भी पुलिस कर रही है और वह सबको धता देते हुए पर्चे बंटवाने में सफल रहा।

पीएम और सीएम से पर्चे में पूछा कई सवाल

अरुण ने अपने पर्चे में लिखा है कि मुख्यमंत्री योगी से देश जानना चाहता कि अब तक के अपने कार्यकाल में उन्होंने गोकशी के कितने अड्‌डे बंद कराए। लखनऊ में कमलेश दीक्षित की सुरक्षा क्यों हटाई गई। इसी वजह से उनकी हत्या हो गई। नेपाल के प्रधानमंत्री ने भगवान राम और मां सीता का अपमान किया तब वह चुप क्यों रहे। अरुण का कहना है कि इसके खिलाफ नाटक का मंचन कराकर आवाज उठाई तो उनके खिलाफ मुकदमा क्यों दर्ज किया गया। राम मंदिर के निर्माण में घोटाला क्यों हो रहा है। काशी विश्वनाथ धाम में भी पैसे का खेल क्यों हो रहा है। पुलिस मेरे घर आकर मेरी बेटी का मोबाइल क्यों छीन ले गई।

बीएचयू परिसर में प्रधानमंत्री के आगमन के मद्देनजर तैनात फोर्स।
बीएचयू परिसर में प्रधानमंत्री के आगमन के मद्देनजर तैनात फोर्स।

सपा को लेकर सतर्क : रात भर चक्रमण के बाद सुबह से भारी फोर्स

समाजवादी पार्टी के गुरुवार के धरना-प्रदर्शन को लेकर भी पुलिस और प्रशासनिक महकमा अतिरक्त सतर्कता बरत रहा है। रात भर पुलिस अफसरों ने शहर भर में चक्रमण किया और प्रधानमंत्री के कार्यक्रम स्थल की ओर आने वाले मार्गों पर फोर्स बढ़ाई गई। सपा नेताओं को पुलिस की ओर से नोटिस भी दी गई है कि वह कोई ऐसा काम नहीं करेंगे जिससे कानून व्यवस्था प्रभावित हो। पुलिस की बात न मानने पर कानूनी कार्रवाई में देरी नहीं की जाएगी।

शहर में रहने वाले अधिकांश सपा नेताओं के घर के बाहर पुलिस तैनात कर दी गई है। जिला मुख्यालय के साथ प्रधानमंत्री के रूट पर भी भारी फोर्स तैनात की गई है। एलआईयू भी सपा नेताओं की गतिविधियों पर नजर रखे हुए हैं। प्रशासन का पूरा प्रयास यही है कि बीएचयू में जनसभा स्थल, बीएचयू गेट, संस्कृत विश्वविद्यालय से सिगरा के बीच और सिगरा व इसके आसपास कानून व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह से सामान्य रहे। कहीं भी कोई धरना-प्रदर्शन न होने पाए।

खबरें और भी हैं...