• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • OP Rajbhar Will Not Allow To Enter Banaras, The Convener Of The Samata Party Said The People Of Varanasi Do Not Need Such A Thug Leader; Will Tell The Reality Of The Thug Leader By Releasing The Poster

पोस्टर जारी कर ओपी राजभर को बताया 'ठग':समता पार्टी के संयोजक बोले- सुभासपा प्रमुख ने सबको ठगा; 27 सितंबर को नहीं आने देंगे बनारस

वाराणसी4 महीने पहले
राष्ट्रीय समता पार्टी के संयोजक शशि प्रताप सिंह ने वाराणसी में पोस्टर जारी कर सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर को ठग घोषित किया।

सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर के बेहद करीबी रहे शशि प्रताप सिंह अब उनके खिलाफ सड़क पर उतर गए हैं। राष्ट्रीय समता पार्टी के संयोजक शशि प्रताप सिंह ने वाराणसी में मंगलवार को पोस्टर जारी कर ओम प्रकाश को 'ठग' घोषित किया। उन्होंने कहा कि ओम प्रकाश राजभर ने राजभरों के साथ ही पिछड़ों, शोषितों और वंचितों को ठगने के अलावा कुछ नहीं किया है। पूर्वांचल में ठगी के बाद अब वह बिहार के लोगों को ठगने की जुगत में लगे हुए हैं।

शशि प्रताप सिंह ने कहा कि आगामी 27 सितंबर को कार्यक्रम के लिए आ रहे ओम प्रकाश राजभर को बनारस में घुसने नहीं देंगे। जिस सड़क से ओम प्रकाश राजभर आएंगे उस पर हमारे कार्यकर्ता काला झंडा और ठग राजभर का पोस्टर लेकर उन्हें घेरेंगे। यदि वह मंच पर पुलिस की मदद से पहुंच भी गए तो उन्हें भाषण नहीं देने देंगे।

बनारस को ठग कर वह बलिया चले गए। ऐसे ठग नेता की बनारस और पूर्वांचल के लोगों को जरूरत नहीं है। अब राजभर समाज के लोग ही ओम प्रकाश राजभर की असलियत को जन-जन के बीच उजागर करेंगे। परिवारवादी और भ्रष्टाचारी ओम प्रकाश राजभर व उनके बेटे पूर्वांचल के साथ ही बिहार में भी बुरी तरह असफल साबित होंगे।

राष्ट्रीय समता पार्टी के संयोजक शशि प्रताप सिंह ने कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के सामने सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर चींटी हैं।
राष्ट्रीय समता पार्टी के संयोजक शशि प्रताप सिंह ने कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के सामने सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर चींटी हैं।

ऐसा कोई सगा नहीं जिसे राजभर ने ठगा नहीं: शशि
शशि प्रताप सिंह ने कहा कि ओम प्रकाश राजभर और उनके बेटे कहते हैं कि जो हमारी पार्टी से निकल गया वह दगा हुआ कारतूस है। कारतूस के लिए बंदूक कहां से आई...? उनके पास बंदूक मऊ सदर विधायक के पास से आई है। मऊ सदर विधायक एक लाइसेंस पर चार बंदूक खरीदने के आरोपी हैं और इस समय भगोड़ा घोषित हैं।

उन चार बंदूक में एक विधायक के पास है। बाकी तीन बंदूक में से एक जहूराबाद के ठग विधायक के पास और दो उनके दोनों बेटों के पास है। ऐसा कोई सगा नहीं है जिसको ठग राजभर ने ठगा नहीं है। बीते विधानसभा चुनाव में जिस तरह से पैसा लेकर ठग राजभर ने टिकट बांटा था वह सब जानते हैं।

'ईडी और सीबीआई का डर है राजभर को'
शशि प्रताप सिंह ने कहा कि बीते 6 साल में ओम प्रकाश राजभर ने बनारस से लेकर बलिया तक अकूत संपत्ति बनाई है। ईडी और सीबीआई जांच के डर से ओम प्रकाश राजभर और उनके बेटों को नींद नहीं आती है। वह समझते हैं कि सरकार ने उन्हें सुरक्षा दी है। वह यह नहीं जानते हैं कि सुरक्षा में तैनात सरकार के लोग उनकी अकूत संपत्ति के स्त्रोत के बारे में जानकारी जुटा रहे हैं।

पुख्ता प्रमाण हाथ लगते ही ओम प्रकाश राजभर और उनके बेटों का हश्र देखिएगा। अखिलेश यादव को नसीहत देने के सवाल पर शशि प्रताप सिंह ने कहा कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष के सामने ओम प्रकाश राजभर चीटी हैं। ऐसा परिवारवादी, धृतराष्ट्र, ठग राजभर भला अखिलेश यादव को क्या घेरेगा। राजभर समाज भी अब ठग राजभर की असलियत जान गया है और अब कोई उनके झांसे में नहीं आने वाला है।

खबरें और भी हैं...