वाराणसी में कोरोना ने बढ़ाई मुश्किलें:BHU अस्पताल और ट्रॉमा सेंटर की OPD सेवा कल से बंद, मरीजों को टेलीमेडिसिन पर होना होगा निर्भर

वाराणसी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
BHU अस्पताल में पूर्वांचल, बिहार, झारखंड समेत कई राज्यों से लोग आते है। - Dainik Bhaskar
BHU अस्पताल में पूर्वांचल, बिहार, झारखंड समेत कई राज्यों से लोग आते है।
  • बुधवार के बजाय मंगलवार से ही बंद करने का निर्णय प्रभावी होगा
  • BHU के करीब 30 से ज्यादा स्टाफ, डॉक्टर संक्रमित पाए गए हैं

वैश्विक महामारी कोविड - 19 के चलते IMS BHU और विश्वविद्यालय में गठित कोविड केयर एवं मॉनिटरिंग समिति ने सभी प्रकार की OPD सेवा मंगलवार से बंद करने का निर्णय लिया हैं। ट्रामा सेंटर में भी चलने वाली OPD बंद रहेगी। अधिसूचना के अनुसार मरीजों को परामर्श के लिये टेलीमेडिसिन सेवा चालू रहेगी।

मरीज विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं

रजिस्ट्रेशन के समय मरीज का ब्यौरा मांगा जायेगा। रजिस्टर्ड नम्बरों पर विभाग के चिकित्सक संपर्क कर परामर्श देंगे। सर्जिकल ऑन्कोलॉजी, रेडियोथेरेपी, रेडिएशन मेडिसिन में फिजिकल OPD कोविड प्रोटोकॉल के साथ जारी रहेगा। टेली कंसल्टेशन के लिये प्रतिदिन जनरल स्पेशियलिटी विभागों के लिए 50 एवं सुपर स्पेशियलिटी विभागों के लिये 30 मरीजों का पंजीकरण फॉलोअप को लेकर किया जा सकेगा। अवकाश के दिन सेवा बंद रहेगा। किसी मरीज को बुलाने की आवश्यकता होगी तो चिकित्सक पहले से समय देंगे।

शाम चार बजे के बाद गंगा घाटों पर जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। पुलिस वाला खुद ही बिना मास्क के घूमता हुआ।
शाम चार बजे के बाद गंगा घाटों पर जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। पुलिस वाला खुद ही बिना मास्क के घूमता हुआ।

छात्रों ने लाइब्रेरी खोलने को लेकर किया प्रदर्शन

परिसर में तेजी से संक्रमण बढ़ रहा हैं। सुबह कुछ छात्र साइबर लाइब्रेरी खोलने की मांग को लेकर हंगामा कर रहे थे। सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें समझा बुझा कर वापस भेज दिया। संक्रमण के चलते शिक्षण कार्य परिसर में बंद हैं। छात्रों से घरों को जाने की अपील की गयी हैं। सभी छात्रावासों में शौचालयों की निकटता वाले कुछ ऐसे कमरे चिन्हित किये जाएंगे जिनमें कोविड-19 संक्रमित छात्रों को आइसोलेट किया जा सके।

गंगा घाटों पर फालतू घूम रहे लोगों को पुलिस वालों ने सबक सिखाया।
गंगा घाटों पर फालतू घूम रहे लोगों को पुलिस वालों ने सबक सिखाया।

कोविड कमांड सेंटर में टेलीमेडिसिन की भी सुविधा मौजूद

DM कौशल राज शर्मा ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण के लगातार बढ़ते खतरे से जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह अलर्ट मोड में है। सिगरा स्थित कोविड कमांड सेंटर का हेल्प लाइन नंबर – 1077 एवं 0542-272005 लोगों की सेवा में 24 घंटे संचालित है। इस हेल्प लाइन नंबर की मदद से कोविड-19 पॉज़िटिव मरीजों को भर्ती करने, एंबुलेंस सेवा प्राप्त करने, जांच में सहयोग करने, कोविड-19 पॉज़िटिव मृतक की सूचना देने व अंतिम संस्कार हेतु एंबुलेंस सेवा प्राप्त करने में की जा सकती है। संक्रमण से जुड़ी अन्य कोई भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है।