ज्ञानवापी में जुमे पर बड़ी संख्या में जुटे नमाजी:वाराणसी में हिंदू-मुस्लिम पक्ष के साथ शांति वार्ता जारी; आपसी अमन कायम रखने के लिए मस्जिदों में हुई दुआख्वानी

वाराणसी4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ज्ञानवापी मस्जिद विवाद के बीच आज जुमे की नमाज अदा की जा रही है। वाराणसी के श्रीकाशी विश्वनाथ कॉरिडोर के गेट पर बड़ी संख्या में  नमाजी जुटे। वे ज्ञानवापी मस्जिद में नमाज के लिए जा रहे हैं। - Dainik Bhaskar
ज्ञानवापी मस्जिद विवाद के बीच आज जुमे की नमाज अदा की जा रही है। वाराणसी के श्रीकाशी विश्वनाथ कॉरिडोर के गेट पर बड़ी संख्या में नमाजी जुटे। वे ज्ञानवापी मस्जिद में नमाज के लिए जा रहे हैं।

वाराणसी शहर में आज धार्मिक शांति और कानून-व्यवस्था को लेकर चाराें ओर गहमागहमी है। काफी संख्या में नमाजी ज्ञानवापी परिसर में नमाज के लिए पहुंचे हैं। ज्ञानवापी मस्जिद विवाद के बीच आज जुमे की नमाज भी है, इसलिए शहर के सभी 400 मस्जिदों में नमाज अदा की जा रही है। कहीं पर शांति के लिए दुआख्वानी, तो कहीं पर संभ्रांत लोगों के साथ प्रशासन की बैठकें चल रही हैं।

वाराणसी में ज्ञानवापी मस्जिद में नमाज के लिए जा रहे लोग।
वाराणसी में ज्ञानवापी मस्जिद में नमाज के लिए जा रहे लोग।

वाराणसी कोर्ट से ज्ञानवापी मामले पर सर्वे और वीडियोग्राफी का आदेश मिलने के बाद अधिकारियों और धर्म गुरुओं के साथ शहर की कानून-व्यवस्था को दुरुस्त रखने के लिए बैठक हुई। वाराणसी के चेतगंज स्थित एसीपी ऑफिस में बैठक के दौरान हिंदू और मुस्लिम पक्ष के लोगों से शांति व्यवस्था भंग न करते हुए प्रशासन के साथ सहयोगी करने की बात कही गई है।

ज्ञानवापी विवाद के बीच आज जुमे की नमाज पर शिया मस्जिद में शांति के लिए दुआख्वानी की गई।
ज्ञानवापी विवाद के बीच आज जुमे की नमाज पर शिया मस्जिद में शांति के लिए दुआख्वानी की गई।

इस बैठक में मौजूद रहे अंजुमन इंतजामिया मसाजिद के प्रवक्ता एसएम यासीन ने कहा कि शहर में कानून-व्यवस्था को कायम रखने की वार्ता हुई। हालांकि थाने से बाहर निकलने पर उन्होंने मीडिया से बातचीत नहीं की, मगर दैनिक भास्कर से फोन पर बात करते हुए बताया कि बैठक में अपील की गई है कि सर्वे के दौरान हर वर्ग से वाराणसी का सौहार्दपूर्ण वातावरण कायम रखें।

वाराणसी में पुरुषों के साथ महिला ने भी अमन-चैन के लिए दुआख्वानी की।
वाराणसी में पुरुषों के साथ महिला ने भी अमन-चैन के लिए दुआख्वानी की।

सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने के साथ शांति की अपील

एसएम यासीन ने कहा कि वाराणसी कोर्ट के फैसले को उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। इसके बावजूद शासन के साथ मिलकर शहर में अमन चैन कायम रखेंगे। दैनिक भास्कर से बातचीत में कहा कि वह सुप्रीम कोर्ट में गए हैं, मगर उनके आधिकारिक वकील का नाम फुजैल अहमद अयूबी है। उन्होंने कहा कि कौन भाई साब अब उनकी ओर से अपील किये इसकी जानकारी नहीं है। मुस्लिम पक्ष ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में अपील करने वाले वकील हुजेफा अहमदी उनके एडवोकेट ऑन वकील नहीं हैं। इस बैठक में डीएम से लेकर शहर के कई अधिकारी मौजूद रहे।

वाराणसी के बड़ी बाजार, सलारपुरा स्थित दरगाह हजरत सैयद सलार मसूद गाजी‌ रहमतुल्लाह अलैह गाजी मियां का पलंग-पीढ़ी (मेदनी) का जुलूस आज बहराइच के लिए रवाना।
वाराणसी के बड़ी बाजार, सलारपुरा स्थित दरगाह हजरत सैयद सलार मसूद गाजी‌ रहमतुल्लाह अलैह गाजी मियां का पलंग-पीढ़ी (मेदनी) का जुलूस आज बहराइच के लिए रवाना।

बाबा दरबार के बाहर जुटे नमाजी
वाराणसी में आज मुस्लिम जुमे की नमाज अदा कर रहे हैं। इस दौरान ज्ञानवापी मस्जिद में रोजाना से कुछ ज्यादा ही भीड़ नमाज करने पहुंची। बताया जाता है कि जुमे की नमाज में यहां पर इतने लोग नहीं इकट्ठा होते। इस दौरान श्रीकाशी विश्वनाथ गेट पर काफी भीड़ भी इकट्ठा हो गई है। इसको देखते हुए वाराणसी प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था को काफी चाक-चौबंद कर दिया है।

सौहार्द के लिए दुआख्वानी

शिया मस्जिद के प्रवक्ता हाजी फरमान हैदर ने कहा कि आज जुमे की नमाज के बाद हम लोगों ने मुल्क और शहर की सलामती के लिए दुआख्वानी की। किसी भी तरह से वाराणसी में माहौल खराब न होने पाए, इसके लिए खुदा के सामने अर्जी दी गई।

मेदनी का जुलूस बहराइच रवाना
आज जुमे की नमाज के साथ ही मेदनी का जुलूस भी निकाला गया है। वाराणसी के बड़ी बाजार, सलारपुरा स्थित दरगाह हजरत सैयद सलार मसूद गाजी‌ रहमतुल्लाह अलैह गाजी मियां का पलंग-पीढ़ी (मेदनी) का जुलूस आज बहराइच ​के लिए रवाना हो गया।