• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • People Wandered Along With Sage Ascetics To The Funeral Pyre Of Chita Bhasma, Echoes Of Damru And Music Amidst The Pyres On The Great Shrine Of Varanasi.

कोरोना पर आस्था भारी:वाराणसी के महाश्मशान पर चिताओं के बीच चिता भस्म की होली, डमरू की गूंज और संगीत की धुन पर साधु सन्यासियों संग थिरकते रहे लोग

वाराणसी7 महीने पहले
दुनिया का एकमात्र स्थान जहां मातम के बीच उत्सव मनाया जाता हैं।
  • मणिकर्णिका महाश्मशान पर 20 वर्षों से परंपरा विश्व प्रसिद्ध हुआ
  • दोपहर में मशान नाथ बाबा की पूजा कर शुरू होती है होली

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में रंगभरी एकादशी के दूसरे दिन गुरुवार को महाश्मशान मणिकर्णिका घाट पर जलती चिताओं के बीच चिता भष्म की होली खेली गयी। मान्यता है कि बाबा विश्वनाथ मां गौरा के साथ गौना बारात के साथ वापस मंदिर आते हैं। औघड़ानी के रुप में बाबा आज के दिन देवी, देवताओं, यक्ष, दृश्य, अदृश्य शक्तियों, भूत, प्रेत, पिसाच संग महाश्मशान पर होली खेलते हैं।

डेड बॉडी के सामने बैठकर भस्म से होली खेलता बाबा का भक्त।
डेड बॉडी के सामने बैठकर भस्म से होली खेलता बाबा का भक्त।

शिवशंभु खुद चिता भस्म का श्रृंगार कर खेलते हैं

बाबा महाश्मशान नाथ मंदिर मणिकर्णिका घाट के व्यवस्थापक गुलशन कपूर ने बताया 20 वर्षों से अनादिकाल की परंपरा को भव्य रूप दिया गया हैं। बाबा कल मां का गौना कराकर अपने धाम जाते समय काशीवासियों संग होली खेलते हैं। आज वो औघड़ानी रूप में शमशान आकर भूत, प्रेत, पिसाच, अदृश्य शक्तियों संग चिता भष्म की होली खेलते हैं।

एक तरफ मौत का मातम दूसरी ओर संगीत पर थिरकते लोग।
एक तरफ मौत का मातम दूसरी ओर संगीत पर थिरकते लोग।

चिता भस्म की होली को काशी में बहुत शुभ माना जाता हैं

पूर्व पार्षद रविकांत विश्वकर्मा ने बताया दुनिया का एकमात्र स्थान है, जहां मौत के मातम में उत्सव होता हैं। बाबा मृत आत्माओं को खुद तारक मंत्र देकर मुक्ति मार्ग प्रशस्त करते हैं। यहां हर जाति के लोग होली खेलने आते हैं। बाबा की भक्ति में लोग मदमस्त होकर झूमते है।

मुंडमाल पहने साधु भी पहुंचे चिता भस्म की होली खेलने।
मुंडमाल पहने साधु भी पहुंचे चिता भस्म की होली खेलने।

दाह संस्कार करने आए लोगों ने माना इससे पुण्य स्थल और दिन नही होता

चंदौली से आये पप्पू साव ने बताया कि वो अपनी चाची का दाह संस्कार करने आए हैं। ऐसा विहंगम दृश्य जीवन मे कभी नही देखा था। अद्भुत क्षण मानो साक्षात महादेव होली खेल रहे हो। बाबा मृत आत्म के संग होली खेल कर उनको मोक्ष देंगे। हम सभी बहुत खुश हैं।

महाश्मशान का विहंगम दृश्य।
महाश्मशान का विहंगम दृश्य।