गोली मारकर आंख से ओझल हुए बदमाश:शूटिंग प्लेयर विशाल के पेट में दागी पिस्टल, अस्पताल में भर्ती , पिता ने पहले ही की थी शिकायत; मगर वाराणसी पुलिस ने कर दिया अनसुना

वाराणसी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वाराणसी के विशाल सिंह (35) को बदमाशों ने गोली मार दी गई। इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। - Dainik Bhaskar
वाराणसी के विशाल सिंह (35) को बदमाशों ने गोली मार दी गई। इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

वाराणसी के सिगरा स्थित विजया नगरम मार्केट में आज रात एक शूटिंग प्लेयर और समाजिक कार्यकर्ता विशाल सिंह (35) को गोली मार दी गई। इस कांड को अंजाम देकर भाग रहे बदमाशों का पीछा भी कुछ लोगों ने किया, मगर पिस्टल लहराने पर सबके हौसले पस्त हाे गए और सभी नकाबपोश आंख से ओझल हो गए। घायल विशाल को पास के मलदहिया स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसकी हालत खतरे से बाहर है। हैरानी यह हुई कि विशाल के पिता अशाेक सिंह ने पहले से ही पुलिस को संकेत दे दिया था कि विशाल को पंकज नाम का बदमाश जान से मारना चाहता है। उसके बावजूद पुलिस गंभीर नहीं हुई। इस घटना के बाद वाराणसी पुलिस ने शहर भर में बदमाशों की तलाश में गाड़ियां दौड़ा दीं। चप्पे-चप्पे पर आवाजाही करने वालों पर निगाह रखी जा रही है।

गोली चलने के बाद मची दुकान पर अफरा तफरी।
गोली चलने के बाद मची दुकान पर अफरा तफरी।

रोज की तरह दोस्त के साथ कर रहा था गपशप
विशाल कैंट स्थित इंग्लिशिया लाइन का रहने वाला है। वह समाजिक कार्यकर्ता होने के साथ ही शूटिंग में नेशनल तक खेल चुका है। वह हर रोज की ही तरह अपने इलाके से थोड़ा दूर विजया नगरम मार्केट स्थित बबलू पाल की दूध डेयरी के बाहर दोस्तों से गपशप कर रहा था। इतने में पीछे से आए नकाबपोशों ने विशाल सिंह के पेट में पिस्टल सटाकर ट्रिगर भी दबा दी। गोली लगते ही विशाल जमीन पर गिर गया तो उसे तड़पता देख बदमाशों ने फिर से फायरिंग की, मगर वहां पर खड़े विशाल के दोस्त ने गुंडों को मनसूबों को नाकाम कर दिया। इसके बाद तो आसपास दुकानों के लोग अपनी दुकानें बंद कर भागने लगे। वहीं वहां पर खड़े हमलावर भी विशाल के दोस्त से अपना हाथ छुड़ाकर मौके से भाग निकला।
शिकायत के बाद भी पुलिस ने बरती लापरवाही
विशाल के पिता अशोक कुमार सिंह ने पुलिस को जानकारी दी कि पंकज गुप्ता नाम का अपराधिक प्रवृत्ति वाला लड़का एक गेस्ट हाउस संचालक के इशारों पर विशाल से दुश्मनी पाल कर बैठा था। बीते दिनों 1 झगड़े में विशाल ने उनके विरोध में आवाज भी उठाई थी। वहीं, उसके बाद पंकज ने विशाल जान से मारने की धमकी दे दी थी। इसकी शिकायत IGRS पोर्टल पर भी की गई थी, वहीं स्थानीय पुलिस को भी जानकारी दी गई। इसके बावजूद विशाल की सुरक्षा के लिए कोई इंतजाम नहीं किए गए। एसीपी चेतगंज अनिरुद्ध सिंह बताया कि आरोपी युवक की तलाश में टीम गठित कर दी गई है। जल्द ही उसे पकड़ लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...