पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पीएम से की मन की बात:जौनपुर के ऑक्सीजन प्लांट के कंटेनर वाहन चालक से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की बात, काम की सराहना करते हुए बोले-कोई दिक्कत हो तो बताना

जौनपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मन की बात में पीएम से बात करते दिनेश। - Dainik Bhaskar
मन की बात में पीएम से बात करते दिनेश।

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के मडियाहूं तहसील क्षेत्र के ग्राम हसनपुर जमूआ निवासी दिनेश उपाध्याय पुत्र बाबूलनाथ उपाध्याय की खुशी का उस वक्त ठिकाना नहीं रहा, जब प्रधानमंत्री से उन्होंने फोन पर बात की। वह मध्यप्रदेश के जिला रायगढ़ स्थित सरकारी ऑक्सीजन प्लांट पर ऑक्सीजन का कन्टेनर वाहन चलाते हैं।

दिनेश ने बताया कि शनिवार शाम 6 बजे के आसपास मोबाइल पर एक फोन आया। फोन करने वाले ने अपना परिचय बताया कि मैं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का पीए बोल रहा हूं और रविवार को दस बजे मन की बात प्रोग्राम के दौरान प्रधानमंत्री आपसे बात करेंगे।

ठीक दस बजे आया फोन
दिनेश ने बताया कि ठीक दस बजे मोबाइल की घंटी बजी। फोन उठाते ही दूसरी तरफ आवाज प्रधानमंत्री की थी। नाम, पिता का नाम, प्रदेश व पैतृक स्थान की जानकारी ली। नौकरी के बारे में पूछा। उन्होंने कहा कि कोरोना जैसी महामारी के समय जब देश की जनता ऑक्सीजन के लिए बेहाल थी। अस्पतालों में आक्सीजन नहीं के बराबर थी। उस समय रात दिन जाग कर अस्पतालों को प्लांट से कन्टेनर वाहन चला कर आक्सीजन पहुंचाने का कार्य किया। इसके लिए काफी सराहना की।

मोबाइल नंबर भी दिया
दिनेश ने बताया कि मोबाइल नंबर देते हुए कहा कि भविष्य में कोई भी परेशानी हो तो जरूर बताया। मदद की जरूरत हो तो निसंकोच बताना। शिक्षा और परिवार के बारे में भी डिटेल ली। दिनेश ने बताया कि गांव हसनपुर जमूआ स्थित जनता जनार्दन इंटर कॉलेज से इंटरमीडिएट किया। 18 वर्ष से आक्सीजन प्लांट का कंटेनर वाहन चला रहा हूं।

गांव में रहता है परिवार
मेरे परिवार में मेरे पिता बाबूलनाथ उपाध्याय, माता कलावती देवी हैं। हम चार भाई हैं। मेरे तीन भाई घर पर ही खेती करते हैं। मैं ही मध्यप्रदेश के जिला रायगढ़ में सरकारी ऑक्सीजन प्लांट का कन्टेनर वाहन चलता हूं। मेरी पत्नी निर्मला देवी व मेरे तीन बच्चे जो मेरे माता पिता के साथ गांव में ही रहते हैं।

गांव में बांटी मिठाईयां
पिता बाबूलनाथ उपाध्याय से बात करने पर उन्होंने कहा कि मेरे पुत्र दिनेश ने मेरा सिर गर्व से ऊंचा कर दिया। घर से लेकर पूरे गांव मे मिठाईयां बाटी जा रही हैं। गांव मे खुशी का माहौल है।

खबरें और भी हैं...