पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जौनपुर जेल में कैदियों के कब्जे का मामला:जिस साथी की मौत से उग्र हुए थे जेल में बंद कैदी, उसकी कार्डियक अटैक से हुई थी मृत्यु; पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा

जौनपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
यह भी सामने आया है कि जौनपुर जेल में कैदियों के पथराव, आजगनी और हिंसा के पीछे बंदी की मौत नहीं बल्कि पांच शातिर अपराधियों की यहां से शिफ्टिंग की तैयारी वजह थी। - Dainik Bhaskar
यह भी सामने आया है कि जौनपुर जेल में कैदियों के पथराव, आजगनी और हिंसा के पीछे बंदी की मौत नहीं बल्कि पांच शातिर अपराधियों की यहां से शिफ्टिंग की तैयारी वजह थी।

शुक्रवार को जौनपुर जेल में जिस साथी कैदी की मौत पर जेल के अंदर कैदियों ने हंगामा किया था। उस कैदी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आ गयी है। रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि कैदी बागीश की मौत कार्डियक अरेस्ट से हुई थी। यही नहीं बागीश की मौत जेल के अंदर नहीं बल्कि बाहर हुई थी। शुक्रवार को बागीश को गंभीर हालत में दोपहर 12।52 मिनट पर जेल से हॉस्पिटल के लिए भेजा गया था।

दरअसल, शुक्रवार को जौनपुर जेल में कैदी बागीश की मौत के बाद दूसरे कैदियों ने बवाल कर दिया था। उन्होंने पथराव और तोड़फोड़ के बाद जेल के अस्पताल में आग लगा दी थी। इसके बाद जौनपुर जेल पर करीब 6 घंटे कैदियों का कब्जा रहा। हालांकि पुलिस अधिकारीयों से जांच का आश्वासन मिलने के बाद बवाल शांत हुआ था।

कैदियों ने किया था जेल में भ्रष्टाचार का खुलासा

एक वीडियो में जेल के कैदियों ने खुलासा किया था कि जेल के अंदर सौ रूपए किलो प्याज और डेढ़ सौ रूपए किलो आलू मिलता है। यही नहीं कोई आवाज उठाता है तो उसकी पिटाई भी होती है। कैदियों ने बताया है कि बिना इलाज जेल के अंदर मौत होती है लेकिन जेल प्रशासन इलाज के बहाने बाहर ले जाता है और बता देता है रास्ते में मौत हुई है। हमारी यहां कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

कैदियों की शिफ्टिंग रोकने के लिए किया गया था बवाल

यह भी सामने आया है कि जौनपुर जेल में कैदियों के पथराव, आजगनी और हिंसा के पीछे बंदी की मौत नहीं बल्कि पांच शातिर अपराधियों की यहां से शिफ्टिंग की तैयारी वजह थी। इनको यहां से शिफ्ट करने का प्रस्ताव तैयार हो चुका था। इसकी भनक लगते ही इन पांच कैदियों ने बवाल की साजिश रची। इसी बीच एक बंदी की तबीयत खराब होने से सभी कैदियों को भड़काने का मौका मिल गया।

खबरें और भी हैं...