पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लोकल इफेक्ट से बन रहे बादल:वाराणसी के दक्षिणी हिस्से में गरज-चमक के साथ बारिश, आज कड़ी धूप के साथ हुई सुबह; शाम तक शहर को घेर सकते हैं बादल

वाराणसी8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वाराणसी में आज सुबह से ही कड़ी धूप निकली हुई है। सिंगरौली में बन रहे बादल का असर देखा जा सकता है। - Dainik Bhaskar
वाराणसी में आज सुबह से ही कड़ी धूप निकली हुई है। सिंगरौली में बन रहे बादल का असर देखा जा सकता है।

वाराणसी में बीती रात करीब 1 घंटे तक गरज-चमक के साथ बारिश हुई। दिन भर की गर्मी और मौसम में आर्द्रता इतना अधिक हो कि रात में मौसम ठंड हाेते ही बादल बरस पड़े। हालांकि यह बारिश शहर के दक्षिणी हिस्से और ग्रामीण इलाकों में पानी बरसा। BHU के मौसम वैज्ञानिक प्रो. मनोज कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि लोकल इफेक्ट के कारध इस तरह की छोटी बारिश होती है। इसके साथ ही बादल काफी कम क्षेत्र में ही बनते हैं, जिस वजह से कुछ ही जगह पर बारिश हुई।

खाड़ी के चक्रवात का असर कम

प्राे. श्रीवास्तव ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बने चक्रवात का प्रभाव वाराणसी के दक्षिण विंध्यन पर्वत की श्रेणी से निकल जाएगा। उन्होंने कहा कि सिंगरौली के पास के बड़ा बादल तैयार हो रहा है कि जिसका कुछ असर शाम तक बनारस में भी पड़ सकता है। इसके अलावा वाराणसी में अभी अच्छी बारिया की तो कहीं कोई संभावना नहीं है। दिन में अत्यधिक गर्मी के कारण वाष्पीकरण तेज हो रहा है, जिससे बादल बन रहे हैं। वहीं रात को ठंड होने की वजह से ये पानी किसी खास एरिया में ही गिरा दे रहे हैं।

कड़ी धूप के साथ हुई सुबह

आज वाराणसी में सुबह की शुरूआत कड़ी धूप के साथ हुई। शहर का औसत तापमान 28 डिग्री सेल्सियस, तो अधिकतम 35 डिग्री और न्यूनतम 27 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। वहीं रात 2 बजे तेज हवा के साथ 0.1 मिलीमीटर की बारिश दर्ज की गई। मौसम विभाग के मुताबिक वाराणसी में आज भी पूरे दिन अच्छी खासी गर्मी रहेगी। बीच-बीच में बादल बने भी तो कुछ खास असर नहीं दिखा पाएंगे।

गंगा के जलस्तर में कमी

आज गंगा का जलस्तर 12 सेंटीमीटर तक कम हो गया। रविवार के 64.05 मीटर के मुकाबले आज गंगा का जलस्तर 63.93 मीटर तक दर्ज किया गया।

एक्यूआई का लेवल 35 अंक पर

वाराणसी का एयर क्वालिटी इंडेक्स आज 35 अंक तक दर्ज किया गया। यह शनिवार के 36 अंक के मुकाबले 1 अंक तक सुधरा है। बनारस की हवा अभी भी ‘अच्छा’ की कटेगरी में बना हुआ है। एक्यूआई 46 अंक के साथ शहर का सबसे प्रदूषित इलाका आज भी अर्दली बाजार ही रहा। वहीं मलदहिया में 33, BHU में 32 और भेलूपुर में 28 अंक तक प्रदूषण का स्तर दर्ज किया गया।

खबरें और भी हैं...