• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • Rains May Occur In Varanasi On October 1 And 2 Due To The Low Pressure Formed In The Bay Of Bengal; Strong Wind Made The Pollution Level Satisfactory

वाराणसी में बारिश का अलर्ट जारी:यूपी में 1 और 2 अक्टूबर को बारिश होने की संभावना, मौसम वैज्ञानिक बोले- तेज हवा ने पॉल्यूशन को कम किया

वाराणसी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार वाराणसी में 2 दिन बाद बारिश के संकेत मिल रहे हैं। - Dainik Bhaskar
मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार वाराणसी में 2 दिन बाद बारिश के संकेत मिल रहे हैं।

काशी वासियों के लिए फिर से मौसम बेहतरीन होने वाला है। वाराणसी में फिर से मानसूनी बारिश के संकेत मिलने लगे है। दक्षिणी बंगाल, उड़ीसा और आंध्रप्रदेश में बने निम्नदाब की वजह से यूपी के कई इलाकों में बारिश हो सकती है। मौसम विज्ञान विभाग की ओर से उत्तर प्रदेश में 1 और 2 अक्टूबर के लिए बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

इससे वाराणसी, गोरखपुर, लखनऊ और कानपुर तक बारिश हो सकती है। यह बारिश मूसलाधार तो नहीं होगी मगर काफी हद तक तेज हवा और बादल लाएगी। पिछले सप्ताह मौसम वैज्ञानिक मान रहे थे कि मानसून अब लौट चुका है, मगर यह अभी एक्टिव है। कम या अधिक बारिश के रूप में यह कभी आ धमक सकता है।

तूफान बढ़ रहा उत्तर की ओर

काशी हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) के मौसम वैज्ञानिक प्रोफेसर मनोज कुमार श्रीवास्तव के अनुसार बंगाल की खाड़ी से उठा गुलाब तूफान अब धीरे-धीरे मैदानी इलाके की ओर बढ़ रहा है। हालांकि तटीय इलाकाें से टकराने के बाद इसकी गति में काफी कमी आई है। मगर, पटना, राची, रायपुर आदि क्षेत्रों में बारिश कराने वाले बादल ही उत्तर प्रदेश तक पहुंच सकते हैं। यहां पर भी 1 या 2 दिन तक अच्छी बारिश होने की पॉसिबिलिटी है और उसके बाद मौसम सामान्य हो जाएगा। वहीं तटीय इलाकों में जमकर बारिश हो रही है।

तापमान आया नीचे

आज सुबह वाराणसी का तापमान औसतन 27 डिग्री, अधिकतम 32 डिग्री और न्यूनतम 24 डिग्री सेल्सियस तक गया। तापमान मंगलवार के मुकाबले 1 डिग्री सेल्सियस कम ही है। वहीं वातावरण में नमी 87 फीसदी और 9 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से पुरवाई चल रही है, जिससे गर्मी और उमस से लोगों को राहत मिल रही है। वहीं रह-रह कर धूप भी तीखी हो जा रही है।

हवा रही बेहतर

वाराणसी का एयर क्वालिटी इंडेक्स 46 अंक तक गया। वहीं अर्दली बाजार में यह सबसे अधिक 53 अंक, मलदहिया में 51, भेलूपुर में 43 और BHU में 38 अंक तक गया। वाराणसी की हवा में पॉल्यूशन का लेवल अभी संतोषजनक ही बना हुआ है। प्रदूषण होने के पीछे मौसम का ही प्रभाव है। तेज चल रही हवा के कारण प्रदूषक तत्वों यहां के वातावरण में टिक नहीं पा रहे हैं।

खबरें और भी हैं...