मलजल में डूबा महाश्मशान बाबा का मंदिर:वाराणसी में महाश्मशान मंदिर में भरा है सीवर का गंदा पानी, कांग्रेसियों ने किया प्रदर्शन; दी आंदोलन की दी चेतावनी

वाराणसी12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मणिकर्णिका घाट पर सीवर के गंदे पानी में डूबा हुआ महाश्मशान बाबा का मंदिर। - Dainik Bhaskar
मणिकर्णिका घाट पर सीवर के गंदे पानी में डूबा हुआ महाश्मशान बाबा का मंदिर।

वाराणसी के मणिकर्णिका घाट स्थित महाश्मशान बाबा का मंदिर सीवर के गंदे पानी में डूबा हुआ है। इसे लेकर गुरुवार की शाम कांग्रेसियों ने मणिकर्णिका घाट पर महाश्मशान मंदिर के समीप प्रदर्शन किया। कांग्रेसियों ने कहा कि अगर नगर निगम और जिला प्रशासन ने समस्या का जल्द समाधान नहीं कराया तो जल्द ही बड़े पैमाने पर जन आंदोलन शुरू किया जाएगा।

सीवर के गंदे पानी में डूबे महाश्मशान बाबा मंदिर के समीप खड़े कांग्रेस के नेता।
सीवर के गंदे पानी में डूबे महाश्मशान बाबा मंदिर के समीप खड़े कांग्रेस के नेता।

धर्म की नगरी में यह कैसा अधर्म

पूर्व मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय राय ने कहा कि धर्म की नगरी काशी में मणिकर्णिका घाट पर महाश्मशान बाबा का मंदिर सीवर के पानी में डूबा हुआ है। समस्या का समाधान कराने के बजाय प्रदेश सरकार और उसके अफसर सोये हुए हैं। धर्म और हिंदुत्व के नाम पर ढोंग रचने वाली भाजपा सरकार पूर्ण रूप से निर्दयी हो चुकी है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार की रात विश्वनाथ कॉरिडोर घूम कर चले गए। उनको बगल में ही मणिकर्णिका घाट पर आना चाहिए था। अपने नकारा जनप्रतिनिधियों और अफसरों के उदासीन रवैये को देखना चाहिए था। धर्म की नगरी में भला यह कैसा अधर्म हो रहा है, यह काशीवासियों की समझ से परे है।

बाबा का अपमान काशीवासी बर्दाश्त नहीं करेंगे

महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे ने कहा कि राहगीर, अंतिम संस्कार करने के लिए आने वालों और तीर्थयात्रियों को मलजल से होकर गुजरना पड़ रहा है। लेकिन, भाजपा के जनप्रतिनिधियों और सरकारी अफसरों को कोई फर्क नही पड़ता है। आज हम कांग्रेसजनों ने चेतावनी दी है कि अगर सीवर व्यवस्था दुरूस्त नहीं हुई तो जल्द ही बड़े पैमाने पर जन आंदोलन शुरू किया जाएगा।

महाश्मशान बाबा और उनके मंदिर में सीवर के गंदे पानी का बहना काशीवासी बर्दाश्त नहीं करेंगे। प्रदर्शन में मनीष मोरोलिया, ओमप्रकाश ओझा, तरंग सेठ, आनंद सिंह, ब्रह्मदत्त त्रिपाठी, भैय्यो महाराज, चंचल शर्मा, रंजीत तिवारी, अनुभव राय, रोहित दुबे, अखिल सिंह, विनीत चौबे, विनय राय सहित अन्य लोग शामिल रहे।

खबरें और भी हैं...