• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • Standing At The Crossroads, He Used To Make Remarks, The Police Of Sindhora Police Station Of Varanasi Caught; All The Accused Are From The Same Village.

छींटाकशी के आरोप में 6 गिरफ्तार:चौराहे पर खड़े होकर फब्तियां कसते थे शोहदे, वाराणसी की सिंधोरा थाने की पुलिस ने पकड़ा; सभी आरोपी एक ही गांव के

वाराणसी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महिलाओं और किशोरियों पर छींटाकशी के आरोप में गिरफ्तार शोहदे। - Dainik Bhaskar
महिलाओं और किशोरियों पर छींटाकशी के आरोप में गिरफ्तार शोहदे।

गांव के चौराहे पर खड़े होकर महिलाओं और लड़कियों पर छींटाकशी करने के आरोप में वाराणसी की सिंधोरा थाने की पुलिस ने 6 नवयुवकों को गिरफ्तार किया है। सभी आरोपी एक ही गांव के रहने वाले हैं। शुक्रवार को सभी 6 आरोपियों का चालान कर पुलिस ने उन्हें अदालत में पेश किया। पुलिस की इस कार्रवाई से क्षेत्र के युवकों में खलबली मची हुई है।

महिलाओं और किशोरियों पर छींटाकशी के आरोप में गिरफ्तार शोहदे।
महिलाओं और किशोरियों पर छींटाकशी के आरोप में गिरफ्तार शोहदे।

ग्रामीणों की शिकायत पर गई थी पुलिस

क्षेत्राधिकारी पिंडरा को शिकायत मिली थी कि सिंधोरा थाना अंतर्गत पतिराजपुर गांव के समीप स्थित चौराहे पर कुछ नवयुवक खड़े रहते हैं। वह सभी चौराहे से गुजरने वाली महिलाओं और किशोरियों पर छींटाकशी करते हैं। नवयुवकों की अभद्र और अमर्यादित टिप्पणी की वजह से गांव के चौराहे से महिलाओं और किशोरियों का निकलना दूभर हो गया है।

ग्रामीणों की इस शिकायत के आधार पर क्षेत्राधिकारी पिंडरा ने दरोगा श्यामधर बिंद, हेड कांस्टेबल नवी अहमद और कांस्टेबल अंजू की गठित कर उन्हें कार्रवाई के लिए भेजा। पुलिस ने मौके से पतिराजपुर निवासी सुजीत कुमार, सूरज कुमार, दीपक कुमार, श्यामबाबू, सनी कुमार और मनीष कुमार को छींटाकशी करते हुए पकड़ लिया। इसके बाद सभी को सिंधोरा थाने लाया गया और उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।

लापरवाह पुलिसकर्मियों पर भी होगी कार्रवाई

छींटाकशी के आरोप में 6 नवयुवकों पर कार्रवाई के संबंध में जानकारी देते हुए क्षेत्राधिकारी पिंडरा अभिषेक कुमार पांडेय ने बताया कि क्षेत्र में पुलिस को गश्त और चेकिंग बढ़ाने का निर्देश दिया गया है। महिलाओं और किशोरियों के साथ अभद्रता किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। ऐसे लोगों के साथ सख्ती से पुलिस को पेश आने का निर्देश दिया गया है।

इस संबंध में यदि थाना और चौकी प्रभारियों के साथ ही बीट आरक्षी लापरवाही बरतेंगे तो वह भी कार्रवाई की जद में आएंगे। क्षेत्राधिकारी पिंडरा ने कहा कि महिलाएं और युवितयां थानों पर बनाए गए महिला हेल्प डेस्क पर भी आकर नि:संकोच अपनी शिकायत महिला पुलिसकर्मियों को बता सकती हैं।

खबरें और भी हैं...