वाराणसी में डिप्लोमा फार्मासिस्टों की हड़ताल:20 मांगों के साथ हर दिन 2 घंटे तक जारी रहेगा धरना, इमरजेंसी सेवा रहेगी चालू

वाराणसी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
20 मांगों के साथ 16 दिसंबर तक रोजाना दो घंटे कार्य बहिष्कार की डिप्लोमा फार्मासिस्ट एसोसिएशन ने घोषणा की है। - Dainik Bhaskar
20 मांगों के साथ 16 दिसंबर तक रोजाना दो घंटे कार्य बहिष्कार की डिप्लोमा फार्मासिस्ट एसोसिएशन ने घोषणा की है।

अपने अधिकारों को लेकर डिप्लोमा फार्मासिस्ट एसोसिएशन की हड़ताल जारी है। इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर 20 सूत्री मांग मनवाने के लिए 16 दिसंबर 2021 तक रोजाना दो घंटे तक कार्य बहिष्कार जारी रहेगा। यह हड़ताल प्रांतीय एसोसिएशन के आह्वान पर चल रही है। इसके बाद भी यदि मांग पूरी नहीं होती है तो 20 दिसंबर से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर फार्मासिस्ट जाएंगे। धरने पर बैठे मुख्य वक्ता परिषद अध्यक्ष डॉ. शैलेंद्र सिंह ने कहा कि अपनी मांगों को लेकर हम सभी शीर्ष नेतृत्व के आह्वान पर बैठे हैं।

विशेष कार्याधिकारी फार्मेसी का पदनाम बदलें

डॉ. शैलेंद्र सिंह ने कहा कि हमारी मांगों में प्रमुख रूप से राजपत्रित पदों पर कार्य फार्मासिस्ट को दायित्व के अनुरूप वेतनमान दिया जाए। इसके साथ ही विशेष कार्याधिकारी फार्मेसी का पदनाम बदलकर सहायक निवेशक फार्मेसी किया जाए। चिकित्सकों की गैर मौजूदगी में चिकित्सकीय कार्य कर रहे फार्मासिस्ट को विधिक मान्यता मिले। फार्मासिस्ट को प्राथमिक उपचार के साथ कुछ सीमित उपचार के लिए दवाइयों का नुस्खा लिखने का भी अधिकार दिया जाए।

इसके साथ ही राजपत्रित अवकाश और द्वितीय शनिवार में कार्य के बदले 1 माह का अतिरिक्त वेतन व 30 दिन का आकस्मिक अवकाश भी दिया जाए। उन्होंने बताया कि इस तरह से हम लोगों की 20 मांगें हैं, जिसे पूरा करने के लिए हम सभी 16 दिसंबर तक धरने पर रहेंगे। इसके बाद भी यदि मांग पूरी नहीं होती है तो 20 दिसंबर के बाद अनिश्चितकालीन धरना शुरू होगा, जिसकी जिम्मेदारी शासन और प्रशासन की होगी।

खबरें और भी हैं...