पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बारिश और बादल की संभावना नहीं, गंगा भी घट रहीं:वाराणसी में कुछ और दिन तेज धूप और उमस कर सकती है परेशान, BHU के मौसम वैज्ञानिक बोले; सप्ताह भर बाद करवट लेगा मौसम

वाराणसी10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वाराणसी के अस्सी घाट पर आज सुबह से ही तेज धूप खिली हुई है। वहीं गंगा के जलस्तर में 2 दिन से कमी देखी जा रही है। - Dainik Bhaskar
वाराणसी के अस्सी घाट पर आज सुबह से ही तेज धूप खिली हुई है। वहीं गंगा के जलस्तर में 2 दिन से कमी देखी जा रही है।

वाराणसी का मौसमी मिजाज काफी सामान्य हो गया है। दिन में तेज धूप, हल्के बादल, शाम को उमस भरी गर्मी और रात में हल्की ठंड भी महसूस हो रही है। तापमान भी औसतन 32 से 35 डिग्री सेल्सियस के मध्य में ही रहता है। वाराणसी में आज सुबह से तेज धूप खिलने के साथ गर्मी भी बढ़ी है। आज दोपहर तक अच्छी-खासी गर्मी लोगों को परेशान कर सकती है। तापमान अधिकतम 34 डिग्री सेल्सियस, औसतन 27 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 26 डिग्री सेल्सियस पर गया। पूरब से आ रही है हवा की गति भी 10 किलोमीटर प्रति घंटे तक दर्ज की गई।

मौसम विभाग के मुताबिक आज वाराणसी में पूरे दिन अच्छी धूप खिली रहेगी। इस कारण से गर्मी भी ठीक-ठाक पड़ सकती है। वहीं बारिश या बादल भी जैसी काेई स्थिति अभी नहीं दिख रही है। BHU के मौसम विज्ञानी प्रो. मनोज कुमार श्रीवास्तव के अनुसार इधर-बीच उमस भरी गर्मी और तीखी धूप से लोगों को परेशानी हो सकती है। अभी कुछ दिन तक मौसम इसी तरह से बना रहेगा। उन्होंने बताया कि मौसम में बदलाव अब 2 सप्ताह बाद से महसूस होगा। उन्होंने कहा कि बंगाल की खाड़ी की ओर से आने वाली नम हवा कुछ दिन वर्षा करा सकती है। वहीं इसी के बाद हम गर्मी से निकलकर ठंड के मौसम में प्रवेश कर जाएंगे।

गंगा के जलस्तर में कमी

कुछ दिनों की बढ़ोतरी के बाद गंगा के जलस्तर में दाेबारा से कमी देखी जा रही है। शनिवार के 64.23 मीटर के मुकाबले आज का जलस्तर 64.05 मीटर तक ही रहा। इस दौरान पानी का लेवल 18 सेंटीमीटर कम हुआ है। तुलसी से लेकर दश्वाश्मेध समेत कई घाट अभी पानी में डूबे हुए हैं। वहीं गंगा के घाटों का आपसी संपर्क फिर से तैयार होने लगा है। पानी में ऐसे ही कमी आती रही, तो जल्द ही घाट एक छूसरे से जुड जाएंगे।

एक्यूआई का लेवल 'अच्छा'

वाराणसी का एयर क्वालिटी इंडेक्स आज 36 अंक तक दर्ज किया गया। यह शनिवार के 57 अंक के मुकाबले 31 अंक तक कम हुआ है। इस अंक के कारण बनारस की हवा अच्छी की कटेगरी में शामिल है। शहर का सबसे प्रदूषित इलाका आज अर्दली बाजार 40 अंक, मलदहिया में 38, BHU में 32 और भेलूपुर में 35 अंक तक प्रदूषण का स्तर रहा।

खबरें और भी हैं...