• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • Varanasi Cyber Crime Latest Updates। The Businessman Was Duped While Coming From Britain, BLO Was Blown Away By Referring To The Election Office

गजब के जालसाज:वाराणसी में व्यापारी को ब्रिटेन से आते समय लगाया चूना, बीएलओ को निर्वाचन कार्यालय का हवाला देकर उड़ाए पैसे

वाराणसी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वाराणसी में सोमवार को तीन थाना क्षेत्र भेलूपुर, लंका और सिंधोरा में साइबर ठगी के मामले दर्ज हुए हैं। - Dainik Bhaskar
वाराणसी में सोमवार को तीन थाना क्षेत्र भेलूपुर, लंका और सिंधोरा में साइबर ठगी के मामले दर्ज हुए हैं।

वाराणसी में सोमवार को तीन थाना क्षेत्र भेलूपुर, लंका और सिंधोरा में साइबर ठगी के मामले दर्ज हुए हैं। हालांकि पुलिसकर्मियों की तरफ से पीड़ितों को कोई आश्वासन नहीं दिया गया है। इससे पीड़ित सशंकित हैं। उन्हें आशंका है कि कहीं उनकी शिकायतें सिर्फ दर्ज होने तक सीमित न रह जाएं। गरथमा निवासी एक कर्मचारी को निर्वाचन ड्यूटी से संबंधित जानकारी अपडेट कराने के बहाने जालसाजों ने ठगा है।

इमिग्रेशन में दिक्क्त आने पर कॉल कर मांगे गए 35 हजार
महमूरगंज क्षेत्र के शीलनगर निवासी व्यापारी कुंदन कुमार सिंह ने बताया कि बीती 10 जून को वह ब्रिटेन से नई दिल्ली आ रहे थे। इमिग्रेशन में दिक्कत आने पर उन्हें ब्रिटेन के नंबर से कॉल कर 35 हजार रुपये की मांग की गई। कॉल करने वाले ने कहा कि आपके डेबिट कार्ड की सुविधा शुरू होते ही 11 जून को पैसा वापस ट्रांसफर कर दिया जाएगा। इसके कुछ घंटे बाद दिल्ली से वाराणसी की फ्लाइट की टिकट के लिए 28 हजार रुपए की मांग की गई। इस पर उन्हें शक हुआ तो उन्होंने अपने बैंक को सूचना देकर कॉल करने वाले से अपना 35 हजार वापस मांगा तो उसका मोबाइल ही स्विच ऑफ हो गया। कुंदन की तहरीर के आधार पर भेलूपुर थाने की पुलिस मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

एनी डेस्क ऐप्प डाउनलोड करें, निर्वाचन कार्यालय की जानकारी पाएं
गरथमा निवासी रमेश चंद्र के मोबाइल पर कॉल आई। कॉल करने वाले ने खुद को वाराणसी स्थित विकास भवन से मोहित कुमार बोल रहा हूं। फिर कहा कि आपके घर में बीएलओ मंजू कुमार हैं, उनकी सुविधा के लिए मोबाइल में एनी डेस्क ऐप डाउनलोड कर दीजिए। निर्वाचन कार्यालय से संबंधित सारी जानकारी मोबाइल में मिल जाया करेगी। इसके साथ ही मंजू देवी के आधार कार्ड की फोटो मांगी। थोड़ी देर बाद फिर कॉल आई। कॉल करने वाले ने कहा कि आधार कार्ड में नाम स्पष्ट नहीं है। किसी एटीएम कार्ड की दोनों तरफ की फोटो भेजिए ताकि डेटा सही से फीड हो जाए। एटीएम कार्ड की फोटो देने के बाद कहा कि मोबाइल में जो ओटीपी गया है उसे बताएं। ओटीपी बताते ही खाते से 30 हजार रुपये निकालने का मैसेज आया। रमेश चंद्र की शिकायत के आधार पर सिंधोरा थाने की पुलिस मुकदमा दर्ज कर जांच कर रही है।

पॉवर बैंक ऐप्प डाउनलोड करने पर खाते से निकल गए 61 हजार
सुंदरपुर क्षेत्र की हनुमान नगर कॉलोनी निवासी निरंजय तिवारी ने बताया कि उन्होंने गूगल प्ले स्टोर से पॉवर बैंक ऐप डाउनलोड किया था। उसके बाद उनके बैंक खाते से 61 हजार रुपए निकल गए और उन्हें इसकी भनक तक नहीं लगी। उन्होंने हाल ही में एटीएम से पैसा निकाला तो खाते में 61 हजार रुपए कम देख कर उनके होश उड़ गए। निरंजय की शिकायत के आधार पर लंका थाने की पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर साइबर क्राइम थाना की मदद मांगी है।

खबरें और भी हैं...