• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi
  • The Murderous Attack On The Former Student Leader Of The Vidyapeeth In Varanasi Was Not Caught Even After 6 Days, The Students Took Out The Justice March

बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए उतरे सड़क पर:वाराणसी में विद्यापीठ के पूर्व छात्रनेता पर जानलेवा हमला करने वाले 6 दिन बाद भी नहीं चढ़े हत्थे, छात्रों ने निकाली न्याय यात्रा

वाराणसीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के पूर्व छात्रनेता पर जानलेवा हमला करने वाले बदमाशों की गिरफ्तारी की मांग के लिए न्याय यात्रा में शामिल छात्र। - Dainik Bhaskar
महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के पूर्व छात्रनेता पर जानलेवा हमला करने वाले बदमाशों की गिरफ्तारी की मांग के लिए न्याय यात्रा में शामिल छात्र।

वाराणसी स्थित महात्‍मा गांधी काशी विद्यापीठ के पूर्व छात्रसंघ उपाध्यक्ष और अधिवक्ता राहुल राज पर जानलेवा हमले करने वाले बदमाशों की गिरफ्तारी न होने से छात्रों में नाराजगी है। सोमवार को विद्यापीठ के छात्रों ने विश्वविद्यालय के गेट नंबर 3 से मलदहिया चौराहा तक न्याय यात्रा निकाली। छात्रों ने पुलिस को अल्टीमेटम दिया है कि यदि आगामी 72 घंटे में बदमाश गिरफ्तार नहीं किए गए तो वह बड़े पैमाने पर आंदोलन शुरू करने के लिए बाध्य होंगे। सिगरा थाने की पुलिस ने आश्वस्त किया कि आरोपी जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होंगे। इसके बाद न्याय यात्रा में शामिल छात्र वापस विश्वविद्यालय लौट गए।

न्याय यात्रा में शामिल छात्रों को समझाता पुलिसकर्मी।
न्याय यात्रा में शामिल छात्रों को समझाता पुलिसकर्मी।

करेंगे प्रदर्शन तो जिम्मेदारी होगी पुलिस की

न्याय यात्रा में शामिल अभिषेक गिरी, मुकेश गिरी, सचिन कुमार, अखिलेश, दयाशंकर यादव, राहुल निषाद आदि ने पुलिस से कहा कि अगर आगामी 72 घंटे में आरोपी गिरफ्तार नहीं हुए तो विद्यापीठ के छात्र सड़कों पर होंगे। इसकी पूरी जिम्मेदारी पुलिस और प्रशासन को होगी। अपराधी सरेराह गोली मार दे रहे हैं और पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठे हुए है। सभी ने कहा कि राहुल राज के ऊपर जानलेवा हमले को काशी विद्यापीठ के छात्र किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे। आरोपियों की गिरफ्तारी के साथ ही यह सुनिश्चित किया जाए कि भविष्य में राहुल राज की ऐसी किसी घटना की पुनरावृत्ति न हो।

13 जुलाई की रात घर जाते समय मारी गई थी गोली

बीती 13 जुलाई की देर रात घौसाबाद क्षेत्र में ऑटो सवार बदमाशों ने राहुल राज को दौड़ा कर गोली मारी थी। जानलेवा हमले में गंभीर रूप से घायल हुए राहुल ने एक घर में घुसकर अपनी जान बचाई थी। बदमाशों के असलहे से निकली गोली राहुल राज की पीठ में लगी थी। तफ्तीश के क्रम में कैंट थाने की पुलिस और क्राइम ब्रांच ने संदिग्ध गतिविधियों वाले कई लोगों से पूछताछ की लेकिन वारदात की गुत्थी नहीं सुलझी। पुलिस का कहना है कि तफ्तीश जारी है और जल्द ही आरोपी गिरफ्त में होंगे।

खबरें और भी हैं...