NEET पास कराने का 50 लाख में हुआ था सौदा:त्रिपुरा की कैंडिडेट हिना और उसका पिता गिरफ्तार, वाराणसी की कोर्ट ने भेजा जेल

वाराणसी7 महीने पहले

NEET-UG (मेडिकल प्रवेश परीक्षा) में त्रिपुरा की हिना विश्वास को पास कराने का सौदा 50 लाख रुपए में तय हुआ था। सॉल्वर गैंग से यह डील हिना के पिता गोपाल विश्वास ने की थी। हिना और उसके पिता की गिरफ्तारी के बाद सोमवार को यह बात सामने आई। पुलिस ने पिता और बेटी को कोर्ट में पेश किया। वहां से दोनों को जेल भेज दिया गया।

हिना विश्वास के पिता गोपाल विश्वास को अदालत में पेश करने ले जाती सारनाथ थाने की पुलिस।
हिना विश्वास के पिता गोपाल विश्वास को अदालत में पेश करने ले जाती सारनाथ थाने की पुलिस।

12 सितंबर को पकड़ में आई थी धांधली

सारनाथ के एक स्कूल में 12 सितंबर को NEET-UG परीक्षा में सॉल्वर गैंग की धांधली का मामला सामने आया था। पुलिस ने परीक्षा केंद्र से ही हिना विश्वास की जगह परीक्षा दे रही BHU की BDS की छात्रा जूली कुमारी और उसकी मां बबीता देवी को गिरफ्तार किया था। उसके बाद से लेकर अब तक इस प्रकरण में सॉल्वर गैंग के सरगना नीलेश सिंह उर्फ PK सहित 13 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।यह भी पढ़ें

वाराणसी की जिला जेल में बंद सॉल्वर BHU की BDS की छात्रा जूली कुमारी।
वाराणसी की जिला जेल में बंद सॉल्वर BHU की BDS की छात्रा जूली कुमारी।

हिना विश्वास को डॉक्टर बनाना चाहता था पिता

त्रिपुरा के धलाई जिले के एडीसी साउथ कचुचारा निवासी गोपाल विश्वास ने बताया कि वह मेडिकल स्टोर चलाता है। वह अपनी बेटी हिना को डॉक्टर बनाना चाहता था। जूली का एडमिशन MBBS में कराने के लिए उसने त्रिपुरा के ही प्रदीप्त भट्टाचार्य और मृत्युंजय देवनाथ से संपर्क किया। उन दोनों ने नीलेश उर्फ PK और डॉ. ओसामा शाहिद से 50 लाख रुपए में सौदा तय कराया। एडवांस में 5 लाख रुपए प्रदीप्त, मृत्युंजय और नीलेश उर्फ PK के बैंक अकाउंट में जमा किया गया।

इसके बाद परीक्षा देने के लिए जूली कुमारी और हिना की फोटो को मिक्स करा कर फॉर्म भरवाया गया। 12 सितंबर को हिना की जगह जूली कुमारी परीक्षा दे रही थी। तभी कमिश्नरेट वाराणसी की सर्विलांस टीम और सारनाथ थाना की पुलिस टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया। यह भी पढ़ें

सॉल्वर गैंग का सरगना नीलेश सिंह उर्फ PK वाराणसी जिला जेल में बंद है।
सॉल्वर गैंग का सरगना नीलेश सिंह उर्फ PK वाराणसी जिला जेल में बंद है।

जूली के पकड़े जाने की सूचना पर बेटी के साथ घर छोड़ कर भागा

गोपाल विश्वास ने बताया कि परिजनों और पड़ोसियों को उसने यह भरोसा भी दिलाया था कि उसकी बेटी ने ही NEET-UG की परीक्षा दी है। इसके लिए वह, प्रदीप्त भट्टाचार्य और उसकी बेटी हिना 9 सितंबर को एयर इंडिया की फ्लाइट से अगरतला से दिल्ली गए। 3 दिनों तक वह लोग दिल्ली में विभिन्न स्थानों पर घूमे। इसके बाद 13 सितंबर की सुबह दिल्ली से एयर इंडिया की फ्लाइट से तीनों अगरतला पहुंचे। वहीं जूली कुमारी के पकड़े जाने की सूचना मिली। इसके बाद से गोपाल विश्वास बेटी हिना के साथ घर छोड़ कर भाग गया।

पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने बताया कि इस मामले में अब तक सॉल्वर गैंग के सरगना समेत 13 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं।
पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने बताया कि इस मामले में अब तक सॉल्वर गैंग के सरगना समेत 13 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

3 डॉक्टर समेत 14 आरोपियों की तलाश जारी

पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने बताया कि इस मामले में अब तक सॉल्वर गैंग के सरगना समेत 13 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं। अभी 3 डॉक्टर समेत 14 आरोपियों की तलाश जारी है। इनमें डॉ. अफरोज, डॉ. प्रिया, डॉ. गणेश, मृत्युंजय देबनाथ, दिव्यज्योति नाग उर्फ देबू, आशुतोष राज, मुंतजिर, प्रवीण, प्रमोद, हामिद रजा, पीयूष, चंदन, संजीव और प्रदीप्त भट्‌टाचार्य शामिल हैं। इनकी तलाश में पुलिस की 4 अलग-अलग टीमें बिहार, बंगाल और त्रिपुरा में दबिश दे रही हैं। यह भी पढ़ें

खबरें और भी हैं...