23 हजार फीट की ऊंचाई पर हंगामा:दिल्ली से वाराणसी आ रहे विमान का इमरजेंसी गेट खोलने लगा पैसेंजर, क्रू मेंबर्स ने 40 मिनट तक पकड़कर रखा

वाराणसी7 महीने पहले
गौरव खन्ना नाम का युवक अचानक इमरजेंसी गेट खोलने लगा। पैसेंजर्स ने शोर मचाकर क्रू मेंबर्स को इसकी जानकारी दी।
  • पुलिस का दावा- आरोपी की गर्लफ्रेंड उसे छोड़कर चली गई, इससे वह परेशान है
  • वाराणसी में लैंडिंग के बाद CISF के हवाले किया, जमानत के बाद घर भेजा गया

नई दिल्ली से वाराणसी आ रहे स्पाइसजेट के विमान में एक युवक ने अचानक इमरजेंसी गेट खोलने की कोशिश की। यह देख विमान में सवार यात्री डर गए। क्रू मेंबर्स ने कुछ यात्रियों की मदद से उसे दबोच लिया। वाराणसी में लैंडिंग होने पर युवक को CISF के हवाले कर दिया गया। बाद में पुलिस ने शांति भंग में उसका चालान किया। युवक को जमानत मिल गई है। पुलिस का कहना है कि युवक की गर्लफ्रेंड ने उसे छोड़ दिया है। इसलिए वह डिप्रेशन में था।

गुरुग्राम का रहने वाला है युवक
नई दिल्ली से स्पाइसजेट के विमान ने शनिवार दोपहर 2 बजकर 22 मिनट पर वाराणसी के लिए उड़ान भरी। इस विमान में हरियाणा के गुरुग्राम के रहने वाले गौरव खन्ना के अलावा 89 यात्री सवार थे। विमान आसमान में करीब 23 हजार फीट ऊंचाई पर था। अचानक गौरव खन्ना अपनी सीट से उठा और इमरजेंसी गेट के करीब पहुंचकर उसे खोलने की कोशिश करने लगा। यह देखकर दूसरे यात्रियों ने शोर मचाया। क्रू मेंबर्स और विमान में सवार कुछ यात्रियों ने उसे पकड़ लिया।

क्रू मेंबर्स ने गौरव को समझाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं माना। उसे करीब 40 मिनट तक पकड़कर रखा गया। पायलट ने हंगामे की खबर एयर ट्रैफिक कंट्रोल को दी। वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट पर विमान के लैंडिंग के साथ ही गौरव को CISF के हवाले कर दिया गया।

स्पाइसजेट के विमान ने नई दिल्ली से 2 बजकर 22 मिनट पर वाराणसी के लिए उड़ान भरी थी।
स्पाइसजेट के विमान ने नई दिल्ली से 2 बजकर 22 मिनट पर वाराणसी के लिए उड़ान भरी थी।

पुलिस को किया गया हैंडओवर
लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट के डायरेक्टर आकाश दीप माथुर ने बताया कि विमान में हंगामे का मामला आया था। शनिवार दोपहर 3 बजकर 40 मिनट पर विमान ने यहां लैंड किया। आरोपी को पुलिस को हैंडओवर कर दिया गया है।

जमानत मिलने के बाद अपने घर गया
फूलपुर SO दुर्गेश ने बताया कि आरोपी युवक की मानसिक हालत ठीक नहीं थी। परिवार में उसके पिता की मौत हो चुकी है और गर्लफ्रेंड के छोड़ने की बात सामने आई हैं। इस बात से वह डिप्रेशन में था। उसका चालान कर दिया गया था। जमानत करा कर आरोपी को गुड़गांव भेज दिया गया है।

खबरें और भी हैं...