वाराणसी में 1209 बुजुर्ग, 405 दिव्यांग आज करेंगे मतदान:पोलिंग पार्टियां घर पर मोबाइल कंपार्टमेंट लेकर जाएंगी, पार्टी का एक एजेंट भी मौके पर रहेगा

वाराणसी9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कलेक्ट्रेट से 52 पोलिंग पार्टियां उनके घर के लिए रवाना होंगी। - Dainik Bhaskar
कलेक्ट्रेट से 52 पोलिंग पार्टियां उनके घर के लिए रवाना होंगी।

भारत निर्वाचन आयोग ने इस बार 80 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्ग और दिव्यांग वोटर जो बूथ तक जाने में अक्षम हैं, उन्हें घर से ही वोटिंग की सुविधा उपलब्ध कराया है। वाराणसी जिले की आठों विधानसभाओं के कुल 1209 बुजुर्ग और 405 दिव्यांग मतदाता आज मतदान करेंगे।

इसके लिए कलेक्ट्रेट से 52 पोलिंग पार्टियां आज सुबह 9 बजे रवाना होंगी। ये सभी पोलिंग पार्टियां मतदातों के घर पर जाकर उनका मतदान करवाएंगी और फिर मत पत्र को ट्रेजरी की डबल लॉक में सुरक्षित रख दिया जाएगा। कांउटिंग के समय उसे गिना जाएगा।

जिले के 43 हजार 240 बुजुर्ग व 29 हजार 731 हैं दिव्यांग मतदाता

जिला निर्वाचन अधिकारी कौशल राज शर्मा के निर्देश के क्रम में अभियान चलाकर BLO के माध्यम से जिले के 43 हजार 240 बुजुर्ग व 29 हजार 731 दिव्यांग मतदाताओं के घर घर जाकर पड़ताल की गई थी। बीएलओ ने बुजुर्गों से मिलकर यह पता लगाया था कि वे घर पर वोट देना चाहेंगे या बूथ पर जाकर। इसमें से 1209 बुजुर्गों ने चलने में असमर्थता जाहिर करते हुए घर से वोटिंग की व्यवस्था की मांग की थी।

इसी तरह से 405 दिव्यांग मतदाताओं ने घर से वोटिंग की सुविधा मांगी थी। बीएलओ की ओर से ऐसे लोगों से मौके पर फार्म डी भरवाया गया था। पोलिंग पार्टियां घर पर जाकर वोटिंग कराएंगी व मतदाता सूची में डी दर्ज करेंगी ताकि दोबारा बूथ पर वोटिंग कोई न कर सके।

पोस्टल बैलेट पेपर पर कंपार्टमेंट की घेराबंदी के बीच होगा मतदान
घर पर वोटिंग की मांग करने वाले दिव्यांग व 80 वर्ष से ऊपर के बुजुर्गों का मतदान पूरी तरह गोपनीय रखने की भी व्यवस्था की गई है। घर पर पोलिंग पार्टियां मोबाइल कंपार्टमेंट लेकर जाएंगी। बुजुर्ग या दिव्यांगजन की सहूलियत के अनुसार उसी के घर में लगाया जाएगा। वे पोस्टल बैलेट पेपर पर कंपार्टमेंट के घेराबंदी के बीच मतदान करेंगे।

इसकी बाकायदा वीडियोग्राफी भी होगी और उक्त क्षेत्र के प्रत्याशियों को भी जानकारी दी जाएगी। पार्टी का एक एजेंट भी इस दौरान मौके पर मौजूद रह सकता है।

मतदान के बाद ट्रेजरी के डबल लाक में पोस्टल बैलेट पेपर
उप जिला निर्वाचन अधिकारी रणविजय सिंह ने बताया कि चिह्नित बुजुर्ग व दिव्यांग मतदाताओं का मतपत्र सुरक्षित ट्रेजरी के डबल लाक में रखा जाएगा। मतगणना के दिन बूथ पर भेजा जाएगा, जहां इसकी गिनती होगी।

खबरें और भी हैं...