कल से आयुष्मान 2.0 अभियान का होगा शुभारंभ:वाराणसी सीएमओ का दावा जिले के 90 फीसद पात्र लोगों का बन गया है गोल्डेन कार्ड; 2.89 लाख लोग आयुष्मान से जुड़ चुके हैं

वाराणसीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीएमओ डॉ. वीबी सिंह ने प्रेसवार्ता कर आयुष्मान 2.0 अभियान के बारे में जानकारी दी। - Dainik Bhaskar
सीएमओ डॉ. वीबी सिंह ने प्रेसवार्ता कर आयुष्मान 2.0 अभियान के बारे में जानकारी दी।

वाराणसी के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. वीबी सिंह का दावा है कि आयुष्मान भारत के तहत वाराणसी के 90 फीसद पात्र लोगों का गोल्डेन कार्ड बन गया है। अब कल से 30 सितंबर तक आयुष्मान 2.0 अभियान चलाया जाएगा। नजदीकी सूचीबद्ध सरकारी और निजी अस्पतालों, CHC, PHC ( दुर्गाकुंड, शिवपुर व चौकाघाट) समेत जन सेवा केंद्रों पर निःशुल्क बनवा सकते हैं।

आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना और मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान के अंतर्गत पात्र लाभार्थी का सत्यापन करते हुए उनका आयुष्मान कार्ड (गोल्डन कार्ड) बनाया जाएगा। बुधवार को सीएमओ डॉ. वीबी सिंह ने एक प्रेस वार्ता में इसकी जानकारी दी। डॉ. सिंह ने बताया कि योजना के तहत वाराणसी में अभी तक करीब 2.89 लाख आयुष्मान कार्ड बन चुके हैं। वहीं 66059 रोगी निःशुल्क इलाज भी करा चुके हैं। इस योजना से जिले के कुल 159 अस्पताल सूचीबद्ध हैं, जिनमें 136 निजी और 23 सरकारी अस्पताल शामिल हैं।

माइकिंग और कैंप से करेंगे प्रचार

डॉ. वीबी सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण द्वारा योजना से शत-प्रतिशत लाभार्थी परिवारों को आयुष्मान कार्ड उपलब्ध करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया। इसके लिए “आपके द्वार आयुष्मान 2.0” अभियान चलाया जा रहा है। सफल बनाने के लिए प्रचार-प्रसार किया जाएगा, जिससे बचे 10 फीसद लोगों को भी लाभान्वित किया जा सके। माइकिंग, कैंप, गांव व वार्ड तक जाकर लोगों को कार्ड बनवाने का आह्वान किया जाएगा।

गांवों में आयुष्मान वार्ड का विहीन लाभार्थियों की संख्या अधिक

डॉ. सिंह ने कहा कि गांवाें में आयुष्मान कार्ड विहीन लाभार्थियों की संख्या अधिक है। वहां पर लक्षित परिवारों की सूची ग्राम सभा और वार्ड के नोटिस बोर्ड पर चस्पा की जाएगी, जिससे कोई असुविधा न हो। अभियान से पहले ब्लॉक, पंचायत और वार्ड स्तर पर बैठकें आयोजित की जा रहीं हैं। इसमें कैंप की तारीख का निर्धारण होगा। परिवार के अधिक से अधिक सदस्यों का आयुष्मान कार्ड बनाने का प्रयास किया जाएगा।

कैंप स्थल पर चस्पा की जाएगी लाभार्थी परिवारों की सूची

कैंप का आयोजन कॉमन सर्विस सेंटर के वीएलई के द्वारा सार्वजनिक स्थान जैसे पंचायत भवन, हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर, आंगनबाड़ी केंद्र और प्राथमिक विद्यालय पर किया जाएगा। लाभार्थी परिवारों की सूची कैंप स्थल पर भी चस्पा की जाएगी। जिला कार्यक्रम समन्वयक डॉ. पूजा जायसवाल ने बताया कि कोई भी व्यक्ति योजना से जुड़े अपने नाम के बारे में जानने के लिए 14555/1800-1800-4444 व merapmjay.gov.in पर जानकारी ले सकता है।

5 लाख तक का मुफ्त इलाज

आयुष्मान गोल्डेन एक ऐसा कार्ड है, जिससे देश का कोई भी व्यक्ति आयुष्मान भारत योजना में चुने गए सरकारी और निजी हॉस्पिटलों में अपना 5 लाख रूपए तक का मुफ्त इलाज करवा सकता है। यह गोल्डन कार्ड उन गरीब लोगो को मिलेगा जो आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी होंगे | भारत सरकार द्वारा आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रकिया वाराणसी में तेजी से चल रही है।

खबरें और भी हैं...